जब एसपी ने जेब से रूमाल निकालकर घायल को बांधी पट्टी, डीएम ने भी पेश किया मानवता की मिसाल

खबर सुल्तानपुर से है जहाँ डीएम रवीश कुमार गुप्ता और एसपी शिवहरी मीना ने मानवता की मिसाल कायम किया है़। आंखों के सामने सड़क हादसे का शिकार हुए राहगीरों को देखकर उधर से निकल रहे डीएम-एसपी ने काफिला रुकवाया।

खबर सुल्तानपुर से है जहाँ डीएम रवीश कुमार गुप्ता और एसपी शिवहरी मीना ने मानवता की मिसाल कायम किया है़। आंखों के सामने सड़क हादसे (injured) का शिकार हुए राहगीरों को देखकर उधर से निकल रहे डीएम-एसपी ने काफिला रुकवाया।

एसपी ने जेब से रूमाल निकाला और घायल (injured) युवक के सिर पर पट्टी बांधने लगे। अब जब वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ तो चारों ओर दोनों अधिकारियों की जमकर तारीफ हो रही है़।

ये भी पढ़ें – कन्नौज : नाग-नागिन की अमर प्रेमकहानी, नाग के शव पर नागिन ने भूख-प्यास से तोड़ा दम

चाचा-भतीजे पर गोलियां दागी गई थीं

बताते चले की ये वायरल वीडियो गोसाईंगंज थाना क्षेत्र का बताया जा रहा। दरअसल मंगलवार को थाना क्षेत्र के मूंगर गांव में इमामबारगाह के भूखंड पर दबंगों द्वारा कब्जा करने की नीयत से पैरवी कर रहे चाचा-भतीजे पर गोलियां दागी गई थीं। इसी मामले में बुधवार को डीएम रवीश गुप्ता और एसपी शिवहरी मीना घटना स्थल पर गए थे।

ये भी पढ़ें – उन्नाव: पूजा कर लौट रहे दूल्हा-दुल्हन के साथ हुआ कुछ ऐसा कि लोग मान बैठे ‘देवी मां का प्रकोप’

करीब डेढ़-दो घंटे तक घटना स्थल पर निरीक्षण के बाद जब दोनों अधिकारी जिला मुख्यालय के लिए लौटे थे कि गोसाईगंज थाना क्षेत्र के अयोध्या-सुल्तानपुर मार्ग पर एक सड़क दुर्घटना हो गई, हालांकि दुर्घटना बड़ी नही थी।

लेकिन जैसे ही एसपी और डीएम ने दुर्घटना देखी तत्काल उन्होंने काफिला रुकवाया। गाड़ी से उतर कर दोनों अधिकारी घायलों के पास पहुंचे। एसपी शिवहरी मीना ने देखा कि एक युवक के सिर से खून बह रहा है़। इस पर उन्होंने जेब से रूमाल निकाला और फौरन उसके पट्टी बांधी। सोशल मीडिया पर अब जब वीडियो वायरल हुआ तो लोग दोनों अधिकारियों की भूरी भूरी प्रशंसा कर रहे हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button