बुलंदशहर: ‘तलवे के ठाकुर’ ने पहुंचाया जेल

आपने सड़कों पर दुपहिया और चार पहिया वाहनों पर जाति सूचक शब्द लिखे जरूर देखे होंगे, लेकिन आप ने जाति सूचक शब्द जूता पर कभी लिखा हुए नहीं देखा होगा पर यूपी के बुलंदशहर से कुछ ऐसा ही मामला सामने आया है। 

आपने सड़कों पर दुपहिया और चार पहिया वाहनों पर जाति सूचक शब्द लिखे जरूर देखे होंगे, लेकिन आप ने जाति सूचक शब्द जूता पर कभी लिखा हुए नहीं देखा होगा पर यूपी के बुलंदशहर से कुछ ऐसा ही मामला सामने आया है। 

जहां नासिर नमक युवक को सिर्फ इस जुर्म में पुलिस द्वारा उठाकर सलाखों के पीछे भेज दिया गया क्यू कि वो गरीब शक्स अनजाने में अपने जूते की रेडी पर जाति लिखे जूते बेच रहा था। देखिए रिपोर्ट-

बजरंग दल कार्यकर्ता नासिर की दुकान से जूते खरीदने के लिए गया

यह तस्वीर है बुलंदशहर के ग़ुलावठी की, जहां एक दुकानदार जाति सूचक शब्द लिखे जूतों की बिक्री कर रहा है। दरअसल विशाल चौहान नामक बजरंग दल कार्यकर्ता नासिर की दुकान से जूते खरीदने के लिए गया।

ये भी पढ़ें – उत्तर प्रदेश के इस जिले में फिर से लॉकडाउन?, ये है वजह

आरोप है कि दुकान पर दुकानदार जाति सूचक शब्द लिखे जूतों को बेच रहा था। विकास का कहना है कि उसने दुकानदार से जाति सूचक शब्द लिखे जूतों की बिक्री बन्द करने को कहां, लेकिन जब वह नहीं माना तो विशाल ने ग़ुलावठी कोतवाली में नासिर और जूता बनाने वाली कम्पनी के खिलाफ तहरीर दी।

जिसके तुरंत बाद पुलिस द्वारा नासिर और अज्ञात जूता कंपनी के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली। घटना को लेकर एक वीडियो भी वायरल हो रहा है। वायरल वीडियो में कुछ लोग दुकानदार से उलझते हुए भी देखे जा रहे हैं जबकि दुकानदार कहने पर जूते को हटाता हुआ दिख रहा है।

ये भी पढ़ें – फ़िरोज़ाबाद: हैवान बेटे ने जन्म देनी वाली आपनी माँ के साथ किया ऐसा ‘खौफनाक काम’

दुकानदार का तर्क है कि यह जूता उसने नहीं बनाया है और न ही उसे पता था कि जूते पर जाति सूचक शब्द लिखा हुआ है। वहीं, घटना के बाद नासिर के परिजनों का रोते रोते बुरा हाल है और वह यही कह रहे हैं कि आखिर उनके बेटे की खता क्या है।

परिजनों का दावा है कि नासिर ने जाति सूचक शब्द लिखे जूतों को नहीं बनाया और न ही उसे पता था कि जूतों पर जाति सूचक शब्द लिखा हुए हैं। फिर भी पुलिस ने नासिर के खिलाफ धार्मिक भावनाओं को भड़काने जैसी गम्भीर धाराओं में मुकदमा दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया है।

नासिर को गिरफ्तार करने की बात कही है

एक जाति का नाम लिखा हुआ जूता बेचने का मामला सामने आने के बाद बुलंदशहर पुलिस ने अपने ट्विटर हैंडल पर लॉयन ऑर्डर का हवाला देते हुए नासिर को गिरफ्तार करने की बात कही है।

इसका तर्क नहीं दे पाई है

एसपी बुलंदशहर ने घटना पर बयान देते हुए कहा कि जूता कंपनी पर भी कार्रवाई की जाएगी। मगर अभी तक जूता किस कंपनी में बना और कहां से आया, इसका तर्क नहीं दे पाई है।

इस पूरे प्रकरण में बजरंग दल के नगर संयोजक अपनी बात कह रहे हैं और बुलंदशहर पुलिस लाइन आर्डर का हवाला दे रही है। मगर जिस वक्त जूता खरीदा गया उस वक्त हिरासत में लिए नासिर का दस साल का छोटा भाई रेहान कुछ और ही बयां कर रहा है, मामला तूल पकड़ने के बाद अब बुलंदशहर पुलिस का अपना क्या स्टैंड होता है यह तो आने वाला वक्त ही बताएगा।

रिपोर्ट – ज़ीशान अली 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button