यूपी चुनाव 2022: चुनाव आयोग की प्रेस कांफ्रेंस

राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर चुनाव आयोग प्रेस कॉन्फ्रेंस  उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, गोवा, पंजाब और मणिपुर के लिए विधानसभा चुनाव की तारीखों की घोषणा दोपहर 3.30 बजे से शुरु। पांच राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर चुनाव आयोग प्रेस कॉन्फ्रेंस करेगा. मतदान कार्यक्रम के अलावा, भारत भर में कोरोना और ओमाइक्रोन की बढ़ती संख्या की पृष्ठभूमि के खिलाफ कोविड -19 प्रोटोकॉल की भी घोषणा की जाएगी।

Latest ————

  • 10 फरवरी को उत्तर प्रदेश चुनाव के पहले चरण के चुनाव
  • सभी राजनीतिक दलों के लिए सुविधा एप बनाया गया है और इसके अलावा गैरकानूनी पैसे और शराब पर कड़ी नजर रखी जाएगी- चुनाव आयोग
  • पांचो राज्यों मे 7 चरणों में चुनाव
  • चुनाव आयोग ने पदयात्रा, रोड शो पर लगाई पाबंदी। साइकिल रैली, बाइक रैली पर भी पाबंदी लगाई गई। नुक्कड़ सभाओं पर भी रोक लगाई गई। जीत के बाद जश्न की इजाजत नहीं। रात 8 बजे के बाद चुनाव प्रचार पर रोक
  • सभी पार्टियां सिर्फ वर्चुअल रैली करेंगे, 15 जनवरी को हालात पर रिव्यू करेंगे। डिजिटल और वर्चुअल माध्यम से चुनाव प्रचार
    जीत के बाद जश्न की इजाजत नहीं।
  • पोलिंग टाइम एक घंटा बढ़ाया गया 15 जनवरी तक सभी तरह के रोड शो और चुनावी सभा पर रोक
  • गोवा में 95 फीसदी आबादी को वैक्सीनेशन हो चुका है. उत्तराखंड में 90 फीसदी लोगों को पहली वैक्सीन लग चुकी है.
  • दिल्ली में मुख्य चुनाव आयुक्त सुशील चंद्रा ने कहा कि मतदान केंद्रों की संख्या 2,15,368 है, 2017 के विधानसभा चुनावों से मतदान केंद्रों की संख्या 16% बढ़ाई गई है
  • सीईसी चंद्रा-पारदर्शिता के लिए हमने केंद्रीय 900 ऑबसर्वर नियुक्त किए हैं। कोरोना पॉजीटिव लोग भी कर सकेंगे अपने मताधिकार का प्रयोग
  • उम्मीदवारों को नामांकन ऑनलाइन दाखिल करने की वैकल्पिक सुविधा मिलेगी। आपराधिक पृष्ठभूमि वाले उम्मीदवारों को अखबारों, टीवी चैनलों पर प्रचार अभियान की अवधि के दौरान तीन बार अपने खिलाफ लंबित मुकदमों की जानकारी देनी होगी।
  • कोरोना पॉजीटिव लोग भी कर सकेंगे अपने मताधिकार का प्रयोग
  • राजनीतिक दलों को भी यह बताना होगा कि ऐसी पृष्ठभूमि वाले उम्मीदवार को उन्होंने क्यों चुना है। ऐसे उम्मीदवारों की जानकारी know your candidate एप पर भी उपलब्ध होगी।
  • चुनाव आयुक्त ने कहा कि पार्टियों को अपने होमपेज पर आपराधिक आरोप वाले उम्मीदवारों की जानकारी देनी होगी।
  • हर बूथ पर 1250 मतदाता डाल सकेंगे वोट।
  • चुनाव आयुक्त ने कहा कि कोरोना को ध्यान में रखते हुए चुनाव आयोग ने फैसला किया  है कि उम्मीदवार चुनाव में ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कर सकेंगे।
  • इस बार पांच राज्यों के चुनाव में कुल 18.34 करोड़ मतदाता हैं, इनमें सर्विस मतदाता भी शामिल हैं।
  • इनमें से 8.55 करोड़ महिला मतदाता हैं। कुल 24.9 लाख मतदाता पहली बार वोट डालेंगे. इनमें से 11.4 लाख लड़कियां पहली बार वोटर बनीं हैं. सभी बूथ ग्राउंड फ्लोर पर होंगे, ताकि लोगों को सुविधा हो।
  • बूथ पर सैनिटाइजर, मास्क उपलब्ध होगा।
  • मुख्य चुनाव आयुक्त ने कहा कि हर विधानसभा में एक पोलिंग बूथ पूरी तरह से महिलाओं द्वार संचालित किया जाएगा। ये महिलाओं के सशक्तिकरण के लिए बेहतर होगा।
  • दिव्यांगों के लिए व्हील चेयर की भी व्यवस्था की जाएगी. साथ ही कोविड संक्रमित व्यक्तियों के लिए अलग से व्यवस्था की जाएगी. वहीं बैटल पेपर के जरिए वोटिंग की व्यवस्था होगी
  • पहले गोवा फिर मणिपुर फिर पंजाब और फिर उत्तराखंड के बाद यूपी के चुनावों की होगी घोषणा।
  • चुनाव आयुक्त सुशील चंद्रा ने कहा कि कोरोना की वजह से चुनाव प्रभावित हुए हैं. ऐसे में हमारी ड्यूटी है कि कैसे चुनाव कराए जाएं।
  • मुख्य चुनाव आयुक्त ने कहा कि 18.34 करोड़ वोटर इस चुनाव में हिस्सा लेंगे.
  • कोविड प्रोटोकाल का ध्यान
  • मुख्य चुनाव आयुक्त ने कहा कि 18.34 करोड़ वोटर इस चुनाव में हिस्सा लेंगे।
  • पिछले चुनाव के अपेछा 16 प्रतिशत वोटर्स की बढोत्तरी
  • CEC सुशील चंद्र ने कहा कि चुनाव आयोग ने 3 लक्ष्यों पर काम किया है. ये लक्ष्य हैं Covid safe elections, आसान इलेक्शन, और मतदाताओं की ज्यादा से ज्यादा भागीदारी

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button