Unnao case Update: BSP सुप्रीमो मायावती ने घटना को बताया अति दुखद, सरकार से की ये मांग…

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के उन्नाव (Unnao) जिले की वो घटना, जिसने पूरे राज्य का दिल दहला दिया। इस मामले में बसपा सुप्रीमो मायावती ने...

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के उन्नाव (Unnao) जिले की वो घटना, जिसने पूरे राज्य का दिल दहला दिया। उन्नाव के असोहा थाना क्षेत्र के बबुरहा गांव के एक खेत में तीन दलित लड़कियां (Dalit girls) संदिग्ध अवस्था में पाई गई थी, जिनमें से दो लड़कियों की मौत हो गई थी, जबकि एक की हालात अब भी नाजुक बताई जा रही है। इसके बाद प्रशासन में हड़कंप मच गया था।

मायावती ने घटना को बताया अति दुखद

वहीं, इस मामले में बहुजन समाज पार्टी सुप्रीमो मायावती (Mayawati) ने पीड़ित परिवार के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त की है। मायावती ने ट्वीट कर मामले की उच्च स्तरीय जांच की मांग की है। उन्होंने ट्वीट में लिखा, कि ‘यूपी के उन्नाव ज़िले में तीन दलित बहनों में से दो की खेत में कल हुई रहस्मय मौत व एक की हालत नाजुक होने की घटना अति-गंभीर व अति-दुःखद। पीड़ित परिवार के प्रति गहरी संवेदना। सरकार से घटना की उच्च-स्तरीय जाँच कराने व दोषियों को सख्त सजा दिलाने की बीएसपी की माँग।’

ये भी पढ़ें- अजब-गजब: तीन दिन गर्लफ्रेंड के साथ और बाकी दिन बीवी के साथ….

मृतक किशोरी के पिता ने थाने में दी तहरीर

इस मामले में मृतक किशोरी के पिता की ओर से असोहा थाने में तहरीर देने बड़ी जानकारी सामने आ रही है। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, घटना के 18 घंटे बाद मृतक काजल के पिता ने असोहा थाने में तहरीर दी है। तहरीर में पिता ने घटनास्थल पर मृतक काजल और कोमल के गले में दुपट्टा लिपटा था और तीनों दलित लड़कियों (Dalit girls) के मुंह से झाग निकल रहा था। मृतक के पिता ने तहरीर देकर मामले में उचित कार्रवाई की मांग की है।

दोनों लड़कियों की मौत के छह घंटे पहले खाया था खाना

मृतक लड़कियों को पोस्टमार्टम (post-mortem) के लिए भेजा गया था। इसकी रिपोर्ट आ गई है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में दोनों लड़कियों (Dalit girls) की मौत जहर खाने से होना बताई गई। बताया जा रहा है कि दोनों लड़कियों की मौत के छह घंटे पहले खाना खाया था।

शरीर पर नहीं पाए गए चोट के निशान

पोस्मार्टम रिपोर्ट में दोनों लड़कियों (Dalit girls) के पेट में सौ से अस्सी ग्राम खाना पाया गया है। दोनों लड़कियों की मौत जहर से होने की बात बताई जा रही है। वहीं, दोनों लड़कियों के शरीर पर किसी भी प्रकार की चोट या उसके निशान नहीं पाए गए हैं।

ये भी पढे़ें- उन्नाव केस: पीड़िता की मां बोली- खेत में जाकर देखा तो हमारी बाबू आंखे नहीं खोल रही थी और मुंह से …

…और उसे वेंटिलेशन पर रखा गया है

एक लड़की अब भी अस्पताल में जिंदगी और मौत की जंग लड़ रही है। लड़की को कानपुर के रीजेंसी अस्पताल में रेफर किया गया है। लड़की की हालत अब भी गंभीर बनी हुई है और उसे वेंटिलेशन पर रखा गया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button