घर जमाई दामाद ने साली को प्यार में फंसाकर किया…उड़ जाएंगे आपके होश !

लॉकडाउन में जिंदगी ने कैसे-कैसे रंग दिखाए हैं जिन्हें उम्र भर भुलाया नहीं जा सकेगा. रिश्तों को और अपनों को जहां भरपूर वक्त देने का मौका लोगों को मिला वहीं कुछ रिश्ते भी लॉकडाउन की फुर्सत में बिगड़ गए.

लॉकडाउन में जिंदगी ने कैसे-कैसे रंग दिखाए हैं जिन्हें उम्र भर भुलाया नहीं जा सकेगा. रिश्तों को और अपनों को जहां भरपूर वक्त देने का मौका लोगों को मिला वहीं कुछ रिश्ते भी लॉकडाउन की फुर्सत में बिगड़ गए. मध्‍य प्रदेश के विदिशा जिले में ससुराल में घर जमाई बनकर रह रहा दामाद(son-in-law), साली को लेकर ही भाग निकला.

नटेरन के पमारिया गांव में लॉकडाउन में कामकाज बंद होने के कारण दामाद(son-in-law) 2 महीने तक घर जमाई बनकर ससुराल में रहा. इस बीच 17 साल की साली और उसके बीच प्रेम संबंध बन गए. दोनों की नज़दीकियां देख पत्नी और सास को शक हुआ लेकिन दामाद ने यह कहकर उन्हें चुप करा दिया कि वह उसकी छोटी बहन के जैसी है. यही दामाद(son-in-law) 7 दिन पहले साली को ले भागा. 3 दिन पहले पुलिस उसे बरामद कर लाई.

शुक्रवार को साली ने अपने घर पर जहरीला पदार्थ खा लिया जिससे उसे इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती किया गया. खास बात यह है कि इस दौरान उसकी बड़ी बहन भी इलाज कराने उसके साथ आई.

यह भी पढ़ें : अद्भुत: वो मंदिर, जहां दूध चढ़ाने के बाद होता है ऐसा चमत्कार, जिसे जान आप भी हो जाएंगे हैरान

पमरिया गांव निवासी रिंकी की शादी करीब 5 साल पहले भोपाल के गौतम नगर में रहने वाले बृजेश अहिरवार के साथ हुई थी. रिंकी और बृजेश की दो संताने हैं. रिंकी ने बताया कि लॉकडाउन में काम बंद होने के कारण तंगी चल रही थी. माता पिता के कहने पर वह बृजेश को साथ लेकर अपने मायके आ गई.

बृजेश लोडिंग वाहन चलाता था. मई और जून में करीब 2 महीने तक वह ससुराल में रहा. इस दौरान जाने कब छोटी बहन के साथ उसका प्यार हो गया. रिंकी के मुताबिक उसकी मां और उसे शक भी हुआ था. तब बृजेश ने उसकी मां के पूछने पर कहा था कि यह मेरी बहन जैसी है आप गलत मत समझो. उधर रिंकी की मां का कहना है कि हमने उसे बेटे की तरह माना, लेकिन उसने हमारे घर में ही बिगाड़ करा दिया.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button