नौकर के प्यार में इस कदर अंधी हो गयी मालकिन कि …..

कहते हैं प्यार अँधा होता है।  ये तो कभी भी किसी से भी हो सकता है। न जाति देखता है और न धर्म और न ही अमीरी और गरीबी।

कहते हैं प्यार (love ) अँधा होता है।  ये तो कभी भी किसी से भी हो सकता है। न जाति देखता है और न धर्म और न ही अमीरी और गरीबी। छत्तीसगढ़ की एक स्टील कारोबारी महिला अपने नौकर के प्यार (love) में  इतनी पागल हो गयी कि अपने नौकर के पीछे पीछे अपना सब कुछ छोड़ कर आ गयी।  और दर दर की ठोकरें खाने को मजबूर हो गयी। ऐसा ही मामला मध्यप्रदेश के रायसेन में सामने आया है।

…तो मालकिन भी उसके पीछे पीछे आ गयी

हुआ ये कि एक मालकिन को अपने नौकर के प्यार (love) में दीवानी हो गयी। नौकर अपनी नौकरी और सब कुछ छोड़ कर अपने घर हनगर रायसेन वापस लौट आया तो मालकिन भी उसके पीछे पीछे आ गयी।

ये भी पढ़ें – पहले दो छात्राओं को किया अगवा और फिर हॉस्टल के किचन में ……

व्यक्ति ने उसे अपने घर में जगह नहीं दिया और दुत्कार दिया।  तो दर दर भटकती नज़र आयी। आखिरकार मालकिन ने पुलिस की मदद ली।  मालकिन ने पुलिस को सारी आपबीती बताई।

चार साल तक दोनों बिना शादी किये लिव-इन में रहने लगे

मालकिन ने पुलिस को  बताया कि रायसेन जिले के किशनपुर का एक युवक उसके यहां काम करता था। कुछ दिनों में दोनों को एक-दूसरे से प्यार (love) हो गया। उसने बताया कि लगभग चार साल तक दोनों बिना शादी किये लिव-इन में रहने लगे।

नौकर ने 4 साल तक उसका यौन शोषण

लेकिन लॉकडाउन के दौरान नौकर अपने घर आया और अब वापिस अपने काम पर नहीं लौटा। तो मालिकन नौकर के पीछे पीछे उसके घर जा पहुंची। यही नहीं वो उसे ना तो अपने साथ रखने को तैयार है और ना ही रायपुर वापिस लौटने को। पीडि़त महिला ने कहा है कि शादी का झांसा देकर इस नौकर ने 4 साल तक उसका यौन शोषण किया है।

अपनी आपबीती सुनाई तो….

इस महिला ने पुलिस पर भी रिपोर्ट नहीं लिखने का आरोप लगाया है। महिला का यह भी आरोप है कि नौकर उसके। लाख रुपये लेकर आया है। महिला ने जब स्थानीय लोगों को भी अपनी आपबीती सुनाई तो कई लोगों ने उसकी मदद के लिए अपने हाथ आगे बढ़ाये। मामले के खुलासे के बाद रायसेन एसपी मोनिका शुक्ला का कहना है कि महिला के आवेदन पर संबंधित थाने में मामला दर्ज किए जाने के निर्देश दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि इस मामले में कहां तक सच्चाई है, यह तो जांच के बाद ही पता चलेगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button