बरेली ज़िलाधिकारी मेधावी क्षात्राओं से रूबरू हुए कहा सफलता का नहीं होता कोई शॉर्टकट

बरेली। ज़िलाधिकारी मानवेंद्र सिंह आज अपने आवास पर मिशन टापर मुहिम से जुड़े बच्चों से रूबरू हुए और कहा कि बच्चे जो भी विषय पढ़े, उन्हे उस विषय में फ़ंडामेंटल्स व बेसिक्स की पूर्ण जानकारी अवश्य प्राप्त कर लेनी चाहिये।

बरेली। ज़िलाधिकारी मानवेंद्र सिंह आज अपने आवास पर मिशन टापर मुहिम से जुड़े बच्चों से रूबरू हुए और कहा कि बच्चे जो भी विषय पढ़े, उन्हे उस विषय में फ़ंडामेंटल्स व बेसिक्स की पूर्ण जानकारी अवश्य प्राप्त कर लेनी चाहिये। उन्होने कहा कि बच्चे को लगातार परीक्षा में दूसरे बच्चों के साथ कम्पटीकशन करते रहना चाहिये तथा निरंतर ख़ुद को तराशने का प्रयास करते रहना चाहिए। यदि बच्चा किसी दूसरे बच्चे के साथ कम्पटीशन की भावना नही रखेगा और वह खुद को ही सर्वश्रेष्ठ समझेगा तो वह बच्चा भविष्य में कभी भी सफलता की सीढ़ी नही चढ सकेगा।

जिलाधिकारी ने कहा कि सफल होने का कोई शॉर्टकट नहीं है, यदि कोई भी छात्र परीक्षा की तैयारी करता है तो सर्वप्रथम उसे लक्ष्य निर्धारित कर निरंतरता के साथ उस लक्ष्य का पीछा करना होगा। उन्होंने कहा कि यदि हमारा कोई लक्ष्य नहीं होगा तो हम सफलता कभी नहीं  प्राप्त कर सकेंगे। उन्होने कहा कि यदि हम किसी प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी करते हैं तो उसके लिये उस विषय का सामान्य ज्ञान होना अति आवश्यक है।

इसे भी पढ़ें –अलीगढ़ महोत्सव में काका पंजाबी नाइट देखने को उमड़ा जनसैलाब

ज़िलाधिकारी मानवेंद्र सिंह ने स्वयं को यूपी बोर्ड का छात्र बताते हुए बताया कि कई बार बच्चे इस बात को लेकर चिंतित होते हैं कि हम अभावग्रस्त हैं या कि हम किसी सामान्य स्कूल में पढ़ रहे हैं। उन्होंने स्पष्ट किया कि अभाव ग्रस्तव्यक्ति ही बड़े बड़े गोल अचीव करते हैं। ज़रूरत इस बात की है कि विद्यार्थी के अन्दर अच्छे गुण हों, वह अनुशासित हो। रोज़ पढ़ना, अपने स्वास्थ्य का ख़याल रखना , निरर्थक व्यसनों से बचना , विषय वार अच्छी पुस्तकों से विस्तृत, गहन ज्ञान प्राप्त करना,सटीक व संतुलित दिनचर्या का पालन करना तथा लक्ष्य प्राप्ति हेतु छोटे छोटे गोल सेट कर उन्हें अचीव करते जाना। ये वे गुण हैं जो किसी भी विद्यार्थी को विशेष से विशिष्ट बनाते हैं। उन्होंने स्पष्ट किया कि हमें अपनी अभिरुचि और क्षमता का आकलन करते हुए अपने क्षेत्र का चुनाव करना चाहिए और उस क्षेत्र के जो सफ़ल व्यक्तित्व हैं उनके जीवन के बारे में, चुनौतियों के बारे में अवश्य जानना चाहिए। ऐसा करने से हमें यह समझने में आसानी होगी चुने गए क्षेत्र की चुनौतियाँ क्या हैं और उन्हें कैसे हैंडल करना है ।

ज़िला विद्यालय निरीक्षक बरेली डा० मुकेश कुमार सिंह के दिशानिर्देशन में संचालित महत्वाकांक्षी कार्यक्रममिशन टापर के अंतर्गत जनपद के समस्त बोर्ड से चयनित मेधावी विद्यार्थियों का ज़िलाधिकारी, बरेली से संवाद व ज़िलाधिकारी आवास भ्रमण का कार्यक्रम आयोजित किया गया । विदित हो कि ज़िला विद्यालय निरीक्षक बरेली द्वारा विभिन्न बोर्ड के हाईस्कूल व इण्टर में अध्ययनरत विद्यार्थियों को बोर्ड परीक्षा 2022 में जनपद व प्रदेश स्तर पर अग्रणी स्थान प्राप्त करने हेतु प्रेरित करने के लिएमिशन  टापर के नाम से सुनियोजित कार्यक्रमों की शृंखला तैयार की गयी है जिसके अंतर्गत समस्त बोर्ड के प्रधानाचार्यों की मीटिंग कर इस मिशन का विजन स्पष्ट किया जा चुका है । मिशन टापर के अंतर्गत जनपद के प्रत्येक विद्यालय से हाईस्कूल व इण्टर के पाँच पाँच मेधावी विद्यार्थियों का चयन कर इस प्रकार की गतिविधियाँ की जा रही हैं जिनके आधार पर वे वर्ष 2022 की बोर्ड परीक्षा में जनपद व प्रदेश स्तर पर सर्वोच्च स्थान प्राप्त कर सकें। आज का कार्यक्रम भी इसी शृंखला की एक महत्वपूर्ण कड़ी था ।

ज़िलाधिकारी विद्यार्थी संवाद के कार्यक्रम का प्रारम्भ ज़िला विद्यालय निरीक्षक बरेली डा० मुकेश कुमार सिंह व दो विद्यालयों के छात्र – छात्राओं द्वारा ज़िलाधिकारी बरेली श्री  मानवेंद्र सिंह का बुके देकर स्वागत से किया गया । इसी क्रम में जिला विद्यालय निरीक्षक द्वारा  मिशन टापरबके लक्ष्य व उद्देश्यों पर विस्तार से चर्चा करते हुए उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा मेधावियों के प्रोत्साहन हेतु ज़िला व प्रदेश स्तर पर चलायी जा रही प्रोत्साहन योजना के बारे में जानकारी दी गयी तथा जनपद बरेली से इन योजनाओं का अधिकाधिक लाभ उठाने हेतु मेधावी विद्यार्थी तैयार करने के रोड मैप को साझा किया गया

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button