लखीमपुर हिंसा: रिटायर्ड जज करेंगे लखीमपुर हिंसा की जाँच, सुप्रीम कोर्ट ने दिया आदेश

सुप्रीम कोर्ट ने बुधवार को लखीमपुर हिंसा मामले की जांच के लिए हाई कोर्ट के रिटायर्ड जज को नियुक्त किया है। पंजाब एवं हरियाणा उच्च न्यायालय के पूर्व न्यायाधीश राकेश कुमार जैन को जिम्मेदारी सौपीं गयी है।

सुप्रीम कोर्ट(Supreme Court)  ने बुधवार को लखीमपुर हिंसा मामले की जांच के लिए हाई कोर्ट के रिटायर्ड जज को नियुक्त किया है। पंजाब एवं हरियाणा उच्च न्यायालय के पूर्व न्यायाधीश राकेश कुमार जैन को जिम्मेदारी दी गई है।

लखीमपुर खीरी मामले में सुप्रीम कोर्ट(Supreme Court) ने एसआईटी का पुनर्गठन किया और तीन वरिष्ठ आईपीएस अधिकारियों एस.बी. शिरोडकर, दीपिंदर सिंह और पद्मजा चौहान को शामिल किया है।

Supreme court
Supreme court

चार्जशीट दाखिल करने और सेवानिवृत्त जज से रिपोर्ट मिलने के बाद सुप्रीम कोर्ट मामले पर अगली सुनवाई करेगा. गौरतलब है कि यूपी के लखीमपुर खीरी में हुई हिंसा की जांच के लिए सुप्रीम कोर्ट(Supreme Court) ने आज फिर एसआईटी का गठन किया है.

सुप्रीम कोर्ट ने जांच की निगरानी के लिए पंजाब-हरियाणा उच्च न्यायालय के पूर्व न्यायाधीश राकेश कुमार जैन को नियुक्त किया है।

कोर्ट ने एक महिला समेत तीन वरिष्ठ आईपीएस अधिकारियों को एसआईटी में नियुक्त करने का भी आदेश दिया है। ये अधिकारी होंगे शिरोडकर, दीपिंदर सिंह और पद्मजा चौहान।

साथ ही कोर्ट ने कहा कि जस्टिस राकेश जैन निष्पक्ष जांच सुनिश्चित करेंगे. सुप्रीम कोर्ट एसआईटी जांच पूरी करने और स्टेटस रिपोर्ट दाखिल करने के बाद मामले की फिर से सुनवाई करेगा.

सुप्रीम कोर्ट ने 8 नवंबर को जांच पर असंतोष व्यक्त किया और सुझाव दिया कि जांच में “स्वतंत्रता और निष्पक्षता” लाने के लिए, “अलग उच्च न्यायालय” के एक पूर्व न्यायाधीश को दिन-प्रतिदिन इसकी निगरानी करनी चाहिए।

Supreme court
Supreme court

पीठ ने यह भी कहा था कि उसे विश्वास नहीं है की राज्य द्वारा नियुक्त एक सदस्यीय न्यायिक आयोग मामले की जांच जारी निष्पक्षता से कर पाएगा। इससे पहले राज्य सरकार ने लखीमपुर खीरी जिले के तिकोनिया-बनबीरपुर मार्ग पर हुई हिंसा की जांच के लिए इलाहाबाद उच्च न्यायालय के सेवानिवृत्त न्यायाधीश प्रदीप कुमार श्रीवास्तव को नामित किया था।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button