सुल्तानपुर : जिला मुख्यालय पर कराई जाएगी पंचायत चुनाव की मतगणना- मेनका गांधी

खबर सुल्तानपुर से है जहाँ बुधवार को सुलतानपुर संसदीय क्षेत्र दौरे के तीसरे दिन मेनका संजय गांधी ने धनपतगंज ब्लॉक के दर्जनभर गांव में जन चौपाल के माध्यम से नागरिकों को आश्वस्त किया कि आगामी पंचायत चुनाव में किसी भी अराजकता को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

खबर सुल्तानपुर से है जहाँ बुधवार को सुलतानपुर संसदीय क्षेत्र दौरे के तीसरे दिन मेनका संजय गांधी ने धनपतगंज ब्लॉक के दर्जनभर गांव में जन चौपाल के माध्यम से नागरिकों को आश्वस्त किया कि आगामी पंचायत चुनाव में किसी भी अराजकता को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। श्रीमती गांधी ने नागरिकों को भरोसा दिलाया की पंचायत चुनाव की मतगणना जिला मुख्यालय पर कराई जाएगी। धनपतगंज विकासखंड जिले का सबसे संवेदनशील क्षेत्र माना जाता है, जहां के समस्त मतदान केंद्रों को अति संवेदनशील का दर्जा प्राप्त रहता है। पंचायत चुनाव में क्षेत्रीय नागरिकों को गड़बड़ी की आशंका के चलते सांसद मेनका संजय गांधी ने राज्य निर्वाचन आयोग से जिला मुख्यालय पर मतगणना कराने का सुझाव दिया है।निर्वाचन आयोग गंभीरता से विचार कर रहा है।

ये भी पढ़ें – पत्नी से नाखुश हैवान पति ने फूफा के साथ मिलकर पत्नी के प्राइवेट पार्ट में डाल दिया 

बताते चलें की सांसद श्रीमती गांधी ने धनपतगंज क्षेत्र के संजयनगर, टीकड़ मोड़, मायंग ,पिपरी साईनाथपुर, कुट्टा, बिनगी सहित लगभग 1 दर्जन जन चौपाल को संबोधित करते कहा कि सुल्तानपुर जनपद में पिछले 2 माह में 10000 जमीनी विवादों का निस्तारण किया गया है,जिसके कारण जिले को प्रदेश में प्रथम स्थान प्राप्त हुआ है।उन्होंने बताया कि मैने जिलाधिकारी से जमीनी व आपसी विवादों को जड़ से खत्म करने के लिए कहा है और समाधान बहुत तेजी से किया जा रहाँ है।मुझे उम्मीद है कि आने वाले समय में गांवो एक भी जमीनी विवाद नही रहेगा। मायंग में जन चौपाल के दौरान श्रीमती गांधी ने मणिभद्र सिंह , शशिभद्र सिंह एवं भवभद्र सिंह के संयोजन में निराश्रित 3000 लोगों को कंबल का वितरण भी किया। श्रीमती गांधी ने कहा धनपतगंज क्षेत्र पहले खौफ में रहता था। जबसे मैं आई हूँ यहाँ पर लोगों का भय खत्म हो गया है और लोगों में निडरता आ गई है।उन्होंने कहा इसौली क्षेत्र के विकास के लिए मैं तेजी से काम कर रही हूँ। इस क्षेत्र के धनपतगंज एवं बंधुआकला में जल्द ही थानों की सौगात दी जायेगी। इस क्षेत्र के 27 गांव जो सतहरी – चन्दौर झील के कारण दिक्कत में थे 9 करोड़ रूपये के बजट से वहां के लोगों की समस्या के निदान के काम शुरू हो चुका है। सांसद मेनका संजय गांधी ने कहां कि त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के दौरान वह क्षेत्र में ही मौजूद रहेंगी, उन्होंने कहा कि गांव के विकास के लिए केंद्र सरकार पंचायतों को बड़ा बजट देती है, जिसके लिए योग्यतम नेतृत्व की जरूरत है,उन्होंने कहा कि पढ़े लिखे योग्य नागरिक पंचायत चुनाव में निर्भीक होकर प्रत्याशिता करें।उन्होंने कहा आगामी त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में वह पार्टी प्रत्याशियों के समर्थन में एक महीने रूककर गांव गांव जाकर प्रचार करेगी।

Report-Santosh Pandey

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button