सुल्तानपुर : ₹ 500 करोड़ रुपये का अनी बुलियन ठगी

आईएफ़एस निहारिका सिंह के खिलाफ उठी सीबीआई इंक्वायरी की मांग,जिला भ्रमण पर निकले ठगी के शिकार युवा।

खबर सुल्तानपुर से है जहाँ आज उत्तर प्रदेश की 500 करोड़ जिला कार्यालय पहुँचे अनी बुलियन कंपनी के ठगी के शिकार लोग तो वही ठगी के मामले में पीड़ित युवाओं ने आई एफ एस निहारिका सिंह के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है | इटली में तैनात राजदूत निहारिका के खिलाफ 15 मुकदमे दर्ज होने के बावजूद कार्रवाई नहीं होने से ठगी युवा आक्रोशित हैं,जिला भ्रमण पर निकल कर जिलाधिकारी के माध्यम से राज्यपाल को ज्ञापन भेजने का अभियान शुरू कर विगुल बजा दिया है

 

बताते चलें कि पूरा मामला सुल्तानपुर जिले के बल्दीराय तहसील में संचालित अनी बुलियन कंपनी के कार्यालय से जुड़ा हुआ है। जहां पर रियल स्टेट,शेयर मार्केट,फ्लोर मिल समेत तमाम उपक्रम दिखाते हुए 500 करोड़ से अधिक रूपये की ठगी की गई थी। जिसके 32 से अधिक मुकदमे उत्तर प्रदेश के विभिन्न जिलों में पंजीकृत किए गए थे।

मामले में मुख्य साजिशकर्ता अजीत गुप्ता को लखनऊ के पीजीआई पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेजा था। इसी के साथ उनके एसडीएम सेवानिवृत्त भाई रामगोपाल समेत दर्जनों जालसाज कंपनी संचालक जेल पहुंच चुके हैं।

मुख्य साजिशकर्ता अजीत गुप्ता की पत्नी आई एफ एस निहारिका सिंह इस समय इटली में राजदूत के पद पर तैनात हैं,उनके खिलाफ सीबीआई इंक्वायरी की मांग उठाते हुए पीड़ित युवाओं ने मोर्चा खोल दिया है।इसी क्रम में सुल्तानपुर जिला अधिकारी कार्यालय और पुलिस अधीक्षक कार्यालय के सामने इन पीड़ित युवाओं ने प्रदर्शन किया। प्रदर्शन के बाद ज्ञापन राज्यपाल को प्रेषित जिला अधिकारी के द्वारा भेजा गया।

तो वही ठगी के शिकार लोगो ने बताया कि हम अनी बुलियन कंपनी के खिलाफ सीबीआई की मांग उठाने आए हैं। आई एफ एस निहारिका सिंह जोकि इटली में भारत की राजदूत के रूप में कार्य कर रही हैं और जिनके खिलाफ 15 से अधिक मुकदमे दर्ज हैं,बावजूद इसके अभी तक उनके खिलाफ कोई कार्रवाई मोदी सरकार की तरफ से नहीं शुरू की जा सकी है। एफ एस निहारिका सिंह इस समय इटली में राजदूत के पद पर तैनात हैं। हम सुल्तानपुर अमेठी अयोध्या समेत कई जिलों में निकले हैं। जिसमे जिलाधिकारी के माध्यम से राज्यपाल को प्रेषित ज्ञापन भेजा जा रहा है।

रिपोर्ट – संतोष पांडे

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button