आजमगढ़ : पुलिस अधीक्षक की गाड़ी को रोकना युवक को पड़ा महंगा, रेप की शिकायत लेकर पुलिस अधीक्षक के ऑफिस गए थे

इससे नाराज होकर बड़ी संख्या में ग्रामीणों ने SP ऑफिस पहुंचकर करी शिकायत, पिटाई का यह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल

पुलिस ने गंभीरता से नहीं लिया

जनपद के रौनापार थाना क्षेत्र के रहने वाले परिवार ने बेटी के साथ रेप की शिकायत लेकर पुलिस अधीक्षक के ऑफिस आए थे। परिजनों का आरोप है कि 10 वर्षीय बालिका के साथ 8 अक्टूबर की रात रेप की घटना को अंजाम दिया गया। पीड़ित बालिका को चक्रपाणिपुर मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया था।

जहां इलाज के दौरान मौत हो गई। इस मामले को लेकर रौनापार थाने में शिकायत दर्ज कराई गई थी। पर मामले को थाने की पुलिस ने गंभीरता से नहीं लिया। इससे नाराज होकर बड़ी संख्या में ग्रामीणों ने SP ऑफिस पहुंचकर शिकायत की।

युवक की पिटाई

रेप पीड़िता की मौत के मामले में सुनवाई न होने से नाराज युवक ने SP के सामने आ गया था। इस बात से नाराज होकर SP सुधीर कुमार सिंह ने गाड़ी से उतरकर युवक की पिटाई की। युवक की पिटाई का यह वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है। इस बारे में पीड़ित का कहना है कि यदि वनवासी समाज को न्याय नहीं मिला तो हम लोग सड़क पर उतरने के लिए मजबूर होंगे।

पीड़ित के परिजन

जनसुनवाई के दौरान मिले

पुलिस के अनुसार इस मामले में लड़की की मृत्यु का कारण पीएम रिपोर्ट में death due to septisemia आया है। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि रौनापार थाने के लोग जनसुनवाई के दौरान मिले थे। उनके प्रार्थना-पत्र पर सुनवाई के दौरान मुकदमा दर्ज करने का आदेश दे दिया। जनसुनवाई के बाद संतुष्ट होकर आफिस से बाहर चले गए थे।

जब मैं बाहर निकला तो उनमे से एक लड़का कार के आगे लेट गया तथा कुछ लोगो द्वारा पत्थर मारने का प्रयास किया गया। जिस पर मेरे द्वारा तत्काल उतर कर गाड़ी के आगे से हटाया गया तथा युवक को हिरासत में लिया गया, जिसे छोड़ा जा रहा है। इस मामले में राजनीतिक दलों के लोग राजनीति कर रहे हैं।

सुधीर कुमार सिंह ( पुलिस अधीक्षक, आजमगढ़ )

रिपोर्टर : अमन गुप्ता

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button