SSP कार्यालय फरयादी लड़की ने खाया जहर या खाकर आई थी जहर, हाथ पर लिखकर लाई थी जहर खाने की बात

हाथ पर जहर खाने की बात लिखकर एक लड़की एसएसपी अलीगढ़ के कार्यालय पर पहुंची और एसएसपी कार्यलय पर पहुँचते ही लड़की ने जहर खा लिया। एसएसपी ऑफिस पर लड़की द्वारा जहर खाने की बात सुनते ही वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अलीगढ़ के ऑफिस पर पुलिस कर्मियों के होश उड़ गए।

उत्तर प्रदेश के जिला अलीगढ़ में पुलिस की कार्यप्रणाली से असंतुष्ट होकर एक लड़की ने उठाया आत्मघाती कदम, एसएसपी कार्यालय पर जहर (poison) खा जान देने की एक लड़की ने की कोशिश, जहा अलीगढ़ के एसएसपी कार्यालय पर एक लड़की अपने हाथों पर जहर खाने की बात लिख कर उनके कार्यालय पर पहुंच गई।

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अलीगढ़ ऑफिस पर पहुंचते लड़की ने जहर (poison) खाकर अपनी जीवन लीला समाप्त करने के कोशिश की गई। अब लड़की जहर खाकर आई या फिर एसएसपी आफिस में ही जहर खाया गया इसकी भी जांच की जा रही है।

ऑफिस पर पुलिस कर्मियों के होश उड़ गए

हाथ पर जहर (poison)  खाने की बात लिखकर एक लड़की एसएसपी अलीगढ़ के कार्यालय पर पहुंची और एसएसपी कार्यलय पर पहुँचते ही लड़की ने जहर खा लिया। एसएसपी ऑफिस पर लड़की द्वारा जहर खाने की बात सुनते ही वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अलीगढ़ के ऑफिस पर पुलिस कर्मियों के होश उड़ गए।

ये भी पढ़ें- सुल्तानपुर: आख़िरकार उठ ही गया राज से पर्दा, नौकर ने ही रची थी लूट की साजिश

जिसके बाद जहर (poison)  खा चुकी लड़की को भारी पुलिस फोर्स की मौजूदगी में इलाज के लिये जिला मलखान सिंह अस्पताल ले जाया गया। जहा डॉक्टरों ने लड़की की हालत को नाजुक देखते हुऐ अलीगढ़ के जवाहर लाल नेहरू मेडिकल कालेज रेफर कर दिया गया।

प्रार्थना पत्र भी एसएसपी ऑफिस पर ले लिया गया था

खैर थाना क्षेत्र के विष्णु एसएसपी कार्यलय पर फरियाद लेकर मिलने के लिये बैठे हुऐ थे। उसी दौरान एक लड़की भी वही आकर बैठ गई। जिसकी तबीयत अचानक खराब होने पर जमीन पर गिरने लगी गिरते हुए संभाला तो लड़की ने कहा उसके पेट में दर्द हो रहा है। रिंकी नाम की लड़की थी। जिसका प्रार्थना पत्र भी एसएसपी ऑफिस पर ले लिया गया था।

जब लड़की को गोद में उठाकर गाड़ी में बैठाने के लिए लेकर जा रहा था तब लड़की ने बताया था कि उसने जहर (poison)  खा लिया है। इस दौरान लड़की कुछ भी बताने की स्थिति में नहीं थी बस इतना ही बोल पा रही थी उसने जहर खा लिया है।

बाहर से कुछ खाकर आई होगी और जैसा भी होगा

उस लड़की को नहीं जानता वो भी अपना आवेदन देने आई थी और में भी अपना आवेदन देने आया था। ये भी पता नहीं की उसने जहर (poison) कहा खाया है बस इतना ही बता पा रही थी की उसने जहर खाया हुआ है इस बात को एसएसपी कार्यलय के गेट के सामने खड़े सिपाहियों को भी बता दिया गया है,एसपी क्राइम डॉ अरविंद कुमार ने कहा नहीं नहीं पहले तो यह गलत तथ्य है की उसने यहां आकर खा लिया। बाहर से कुछ खाकर आई होगी और जैसा भी होगा।

पुलिस ने जांच उपरांत तथ्य के आधार पर कार्यवाही की

वो यहां आई थी तो उनको उल्टियां हो रही थी तो पुलिस ने तत्काल उसको अस्पताल में एडमिट करा दिया गया। उससे बातचीत हुई तो पता चला कि पहले ही एक एप्लिकेशन दी थी उस पर एप्लिकेशन पर एफआईआर आलरेडी अतरौली थाने पर पंजीकृत कर ली गई है। जो प्रार्थना पत्र दिया गया और उस प्रार्थना पत्र मे जो वर्णित आरोप लगाए गए थे वो आरोप सात साल से कम सजा के कटघरे में आते हैं। पुलिस ने जांच उपरांत तथ्य के आधार पर कार्यवाही की जिसमें 151 की कार्यवाही भी की गई थी।

बरहाल इस पूरे प्रकरण को सीओ अतरौली द्वारा जांच करने के लिये एसएसपी द्वारा आदेश कर दिये गए है।की वो मौके पर जायेगे और जांच कर रहे है। वहीं लड़की जो आज बता रही है। अगर उस बात में कोई सच्चाई है और कोई तथ्य छूट गया है तो उसी हिसाब उसमें धाराओं को परिवर्तित कर दिया जायेगा। विधि  समित कार्यवाही की जाएगी। यदि आईओ या दरोगा द्वारा कोई लापरवाही की गई है तो उनके खिलाफ जो भी  अनुशासनात्मक कार्यवाही बनती है कार्यवाही की जायेगी।

रिपोर्ट- खालिक अंसारी

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button