अखिलेश यादव ने सपा नेत्री नसीम रेहाना और पूर्व विधायक भीम प्रसाद सोनकर के निधन पर जताया शोक

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने जनपद अम्बेडकरनगर की नगरपालिका परिषद टाण्डा की चेयरमैन...

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने जनपद अम्बेडकरनगर की नगरपालिका परिषद टाण्डा की चेयरमैन एवं समाजवादी पार्टी की नेत्री नसीम रेहाना (Naseem Rehana) एवं पूर्व विधायक आलापुर भीम प्रसाद सोनकर (Bhim Prasad Sonkar) के निधन पर गहरा शोक जताया। सपा प्रमुख ने शोक संतप्त परिवार के प्रति संवेदना व्यक्त की है।

बता दें कि नसीम रेहाना का लम्बी बीमारी के बाद आज (मंगलवार) की सुबह सहारा हास्पिटल, लखनऊ में निधन हो गया। भीम प्रसाद सोनकर (62वर्ष) कैंसर से पीड़ित थे।

इन समाजवादी नेताओं के निधन से समाजवादी पार्टी को अपूरणीय क्षति हुई है।

akhilesh yadav
अखिलेश यादव

अखिलेश यादव ने दिया न्याय दिलाने का आश्वासन

इसके अलावा सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) से आज (मंगलवार) जौनपुर जनपद के बक्शा थानांतर्गत ग्राम चकमिर्जापुर पकड़ी के अजय कुमार यादव (Ajay Kumar Yadav) पुत्र तिलकधारी यादव ने भेंट की। उन्होंने अपने भाई कृष्ण कुमार यादव उर्फ पुजारी की पुलिस हिरासत में मृत्यु के सम्बंध में ज्ञापन सौंपा। सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने न्याय दिलाने का आश्वासन दिया और राज्य सरकार से 20 लाख रुपए की आर्थिक मदद देने की मांग की है।

मृतक पुजारी यादव के भाई अजय कुमार यादव (Ajay Kumar Yadav) ने सपा प्रमुख अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) को ज्ञापन देकर बताया कि गत 11 फरवरी 2021 को लगभग 3 बजे दिन में एसओजी टीम जौनपुर (Jaunpur) व एसओ थाना बक्शा अजय कुमार सिंह मय हमराहियान पूरी फोर्स के साथ घर आए और भाई कृष्ण कुमार यादव उर्फ पुजारी को पकड़ कर थाने ले गए, जबकि उसके खिलाफ किसी भी थाने में कोई मुकदमा दर्ज नहीं है। वह समाजवादी पार्टी का कार्यकर्ता था। रात्रि 8 बजे पुनः थाना बक्शा के एसओ आए और घर में घुस कर 60,000 रुपये नकद, औरतों के गहने व अन्य जरूरी सामान उठाकर ले गए।

Ajay Kumar Yadav

ये भी पढ़ें- आजमगढ़ : किसानों पर हुए लाठीचार्ज के विरोध में सपा ने सौंपा ज्ञापन

ज्ञापन के अनुसार, एसओ ने घर की औरतों के साथ भी बदसलूकी की और अश्लील गालियां दी। रात्रि में लगभग 12:30 बजे उक्त एसओ 10-12 पुलिस कर्मियों के साथ आए, मेरा भाई कृष्ण कुमार उर्फ पुजारी उनके साथ था। पुलिस की पिटाई से वह खड़ा भी नहीं हो पा रहा था। वह चिल्ला कर कह रहा था कि ये पुलिस वाले मुझे मार डालेंगे, मां मुझे बचा लो। पुलिस भाई की अपाचे मोटर साइकिल भी उठा ले गई।

ये भी पढ़ें- SSP कार्यालय फरयादी लड़की ने खाया जहर या खाकर आई थी जहर, हाथ पर लिखकर लाई थी जहर खाने की बात

अजय यादव (Ajay Kumar Yadav) ने कहा कि भाई को लेकर जब पुलिस गई तो हम लोगों को थाने में उससे मिलने नहीं दिया गया। थाने में ही पीटकर पुजारी की हत्या कर दी गई और पुलिस वाले लाश जौनपुर सदर अस्पताल में छोड़कर भाग गए। अब पुलिस समझौता करने और मुकदमा उठा लेने का दबाव बना रही है। अजय यादव ने भी अखिलेश यादव से न्याय दिलाने की प्रार्थना की है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button