….तो दो दिन में उत्‍तर प्रदेश पुलिस का मुखिया बदलने का होगा फैसला

इस संबंध में शनिवार को एक अहम बैठक होगी, जिसके बाद कल देर रात या फिर रविवार की देर रात में बड़े बदलाव होंगे, जिसमें डीजीपी एचसी अवस्‍थी की कुर्सी भी बदल सकती है।

उत्‍तर प्रदेश पुलिस (Uttar Pradesh Police) के अमले में सबकुछ ठीकठाक नहीं चल रहा है। अंदरखाने आपसी मतभेद चरम पर हैं। इसलिए अब बड़े स्‍तर पर बदलाव के संकेत सरकार से मिल रहे हैं। पुलिस महानिदेशक एचसी अवस्‍थी के रिटायर होने में अभी करीब आठ महीने का समय बाकी है और उनके सेवानिवृत्‍त होने का इंतजार करने के मूड में सरकार नहीं है।

इसलिए यूपी में पुलिस की सबसे बड़ी कुर्सी पर अगले कुछ दिनों में अगर नया चेहरा देखने को मिल जाए तो कोई बड़ी बात नहीं होगी। यही नहीं कुछ बड़े जिलों में एसएसपी के पद पर डीआईजी रैंक का अधिकारी बैठेगा। जिससे कानून व्‍यवस्‍था को सुधारने में मदद मिलेगी, ऐसा सरकार के थिंक टैंक की सोच है।

डीजीपी एचसी अवस्‍थी की कुर्सी भी बदल सकती है

उत्‍तर प्रदेश पुलिस (Uttar Pradesh Police) में ट्रांसफरों का दौर शुरू हो गया है जो कि अगले दो से तीन दिन तक और चलेगा. शासन के उच्‍च पदस्‍थ सूत्रों ने बताया कि इस संबंध में शनिवार को एक अहम बैठक होगी, जिसके बाद कल देर रात या फिर रविवार की देर रात में बड़े बदलाव होंगे, जिसमें डीजीपी एचसी अवस्‍थी की कुर्सी भी बदल सकती है।

ये भी पढ़ें – लखनऊ: बेरोजगार लोगों को नौकरी दिलाने के नाम पर धोखाधड़ी करने वाला गिरफ्तार

इसके अलावा राज्‍य के बड़े जिलों में अब एसएसपी की कुर्सी पर डीआईजी को बैठाया जाएगा। डीआईजी को जिलों के सर्विस में भेजने का ये प्रयोग बसपा काल में भी हुआ था।

तब राजधानी के अलावा कानपुर जैसे जिलों में डीआईजी-एसएसपी के पद हुआ करते थे। मगर सपा सरकार में इस व्‍यवस्‍था को बदल दिया गया था। भाजपा सरकार आई तो नोएडा और राजधानी में पुलिस कमिश्‍नर व्‍यवस्‍था को शुरू कर दिया गया है, जबकि कानपुर में एसएसपी के पद पर डीआईजी रैंक का अधिकारी बैठाया गया है।

आईपीएस की राजस्‍थानी लॉबी की वापसी संभव

भाजपा के एक वरिष्‍ठ नेता जिनकी संगठन से लेकर सरकार तक मजबूत पकड़ थी, वह पकड़ अब कुछ ढीली बताई जा रही है। ऐसे में उनके गृह राज्‍य राजस्‍थान की आईपीएस लॉबी अहम पदों पर अब कम हो गई है।

जिससे भी कुछ उठापटक मची हुई है। पंचायत चुनाव से पहले इसमें भी कुछ बदलाव लाया जा सकता है। जिससे शलभ माथुर और कई मीणा आईपीएस की चांदी होना संभव है। फिलहाल अगले दो दिन में ये बदलाव हो जाएंगे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button