शामली: जम्मू कश्मीर पुलिस व एटीएस ने एक आरोपी को किया गिरफ्तार

बिहार के दरभंगा में रेलवे स्टेशन पर हुए ब्लास्ट के बाद एटीएस व एनआईए एजेंसियो ने कई आतंकियों को गिरफ्तार किया है। जिसमे से जनपद शामली के रहने वाले 5 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है।

बिहार के दरभंगा में रेलवे स्टेशन पर हुए ब्लास्ट के बाद एटीएस व एनआईए एजेंसियो ने कई आतंकियों को गिरफ्तार किया है। जिसमे से जनपद शामली के रहने वाले 5 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है। जिनमे से 4 कैराना से तो वही आज एक कांधला से गिरफ्तार किया गया है। वही सूत्रों के हवाले से खबर मिल रही है कि गिरफ्तार किए गए आरोपी इज़हार उर्फ सोनू के दरभंगा में रेलवे ब्लास्ट करने वाले आतंकी संगठन से सम्बंध है।

दरअसल आपको बता दें कि 17 जून को बिहार के दरभंगा में रेलवे ब्लास्ट की घटना सामने आई थी। जिसमें एनआईए और एटीएस की जांच एजेंसी घटना की जांच कर रही है। वही एनआईए व एटीएस की संयुक्त जांच में उत्तर प्रदेश के जनपद शामली में छापेमारी के दौरान कफील व सलीम को गिरफ्तार किया गया था। जिनकी निशानदेही पर टीम ने हैदराबाद से भी कैराना के रहने वाले दो सगे भाइयो इरफान ओर नासिर को गिरफ्तार किया था। वही एटीएस और एनआईए की संयुक्त कार्यवाही के चलते जनपद शामली से चार आतंकवादियों को गिरफ्तार किया जा चुका है तो वही आज एक बार फिर जम्मू कश्मीर पुलिस और एटीएस की संयुक्त कार्यवाही के चलते कांधला थाना क्षेत्र के मोहल्ला मिरदगान से इज़हार उर्फ सोनू पुत्र इन्जार को गिरफ्तार किया गया है।

वहीं सूत्रों की माने तो इजहार उर्फ सोनू के ऊपर धारा 120 बी 121 आईपीसी 3/4 की धाराओं में मुकदमा पंजीकृत है। वही एटीएस व जम्मू कश्मीर पुलिस ने इज़हार उर्फ सोनू को कांधला से गिरफ्तार करते हुए शामली जिला चिकित्सालय में आरोपी की डॉक्टरी कराई है। जिसके बाद जम्मू-कश्मीर पुलिस और एटीएस गिरफ्तार किए गए इजहार उर्फ सोनू को अपने साथ ले गई है।

जम्मू कश्मीर पुलिस व एटीएस द्वारा पकड़े गए इजहार उर्फ सोनू के बारे में उसके भाई नूर मोहम्मद का कहना है कि हम कश्मीर में फलों का व्यापार करते हैं। जिसमें जहांगीर नाम का एक व्यक्ति है जो पुलवामा का रहने वाला है वह भी हमारे साथ काम करता है। वही जहागीर हमारे छोटे भाई सोनू के फोन से फोन करता रहता था। जिसकी वजह से यह मामला सामने आया है। वही इस पूरे मामले में जम्मू-कश्मीर पुलिस और एटीएस ने हमारे भाई को गिरफ्तार किया है। वही हमारा भाई बिल्कुल निर्दोष है।

रिपोर्ट लोकेंद्र कुमार

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button