सुल्तानपुर : पूर्व विधायक व लोकसभा प्रत्याशी व उनके भाई का सेवा कार्य जिले की जनता के लिए रहेगा अनवरत

खबर सुल्तानपुर से है जहाँ शुक्रवार को इसौली/सुल्तानपुर विधानसभा क्षेत्र के रहने वाले चन्द्रभद्र सिंह सोनू व यशभद्र सिंह मोनू का सेवा कार्य अनवरत जारी है,

खबर सुल्तानपुर से है जहाँ शुक्रवार को इसौली/सुल्तानपुर विधानसभा क्षेत्र के रहने वाले चन्द्रभद्र सिंह सोनू व यशभद्र सिंह मोनू का सेवा कार्य अनवरत जारी है, जहाँ लॉक डाउन से लेकर अभी तक गरीबों निर्धन असहाय लोगों के उनके सुख दुःख में सदैव खड़े होकर उनके जरूरत के हिसाब से दान पुण्य का कार्य किया जा रहा है।

ये भी पढ़ें : भाजपा नेता ने 36 बच्चों को बनाया हवस का शिकार, कोल्ड ड्रिंक में नशीला पदार्थ मिलाकर …

बताते चलें की हम बात कर रहे हैं पूर्व लोकसभा प्रत्याशी चंद्र भद्र सिंह सोनू व उनके भाई व ब्लाक प्रमुख यशभद्र सिंह मोनू की जिनको कई लोग बाहुबली के नाम से पुकारते हैं जबकी अगर इन दोनों भाइयों की बात करे तो इनका एक चेहरा ऐसा है जिससे आम जनमानस के दिलों में ये बसते हैं और लोगों की सेवा इस लॉक डाउन के दौरान बड़े पैमाने पर उनके जरूरत की वस्तुओं को उपलब्ध कराया और कोई भूखा नहीं रहा और यह सिलसिला आज भी जारी है और इस कपकपाती ठंड में भी ग़रीबो को कम्बल रजाई आदि वितरित किया जा रहा है और जिले की जनता में अपनी एक अलग पहचान भी इन दोनों भाईयों ने बना रखी हैं।

बताते चलें कि पिछली लोकसभा में चन्द्र भद्र सिंह सोनू को जिस तरह जिले की जनता ने अपना समर्थन और वोट दिया था उसी का परिणाम था कि पूर्व केंद्रीय मंत्री श्रीमती मेनका गांधी को जोकि भाजपा से लोकसभा का चुनाव लड़ रही थी और गठबंधन से चन्द्रभद्र सिंह सोनू 138 लोकसभा के चुनाव में मेनका गांधी के खिलाफ लड़ रहे थे या यूं कहें कि सुल्तानपुर की जनता इनके साथ इनकी लड़ाई लड़ रही थी और परिणाम यह हुआ कि मात्र लगभग 15000 वोटो से ही मेनका गांधी जी चुनाव जीतने में सफल रहीं लेकिन यह जीत ,कोई जीत केन्द्रीय मंत्री श्रीमती मेनका गांधी जैसे दिग्गज नेता के लिए जीत नही कहलातीं!

तो वहीं अगर बात करते हैं इन दोनों भाइयों की और इनके पिता की तो पिता इन्द्र भद्र सिंह जी भी इसौली से विधायक रह चुके हैं और उसी परिपाटी को निरंतर ये दोनों भाई निभाते चले आ रहे हैं और जनसेवा कर रहे हैं बड़े भाई चन्द्र भद्र सिंह सोनू इसौली विधानसभा से दो बार विधायक रह चुके हैं और छोटे भाई चंद्र भद्र सिंह मोनू ब्लॉक प्रमुख, जिला पंचायत सदस्य और अब इसौली से2022 का विधानसभा चुनाव लड़ कर जनता की सेवा करना चाहते हैं चुकी नए परिसीमन में जो बदलाव हुआ उसकी वजह से इसौली और सुल्तानपुर विधानसभा काफ़ी बदलाव हो गया एक इन दिनों भाइयों की कर्मभूमि का कुछ हिस्सा सुल्तानपुर में आ कर जुड़ गया जिसकी वजह से संभावनाएं ये भी है कि चन्द्र भद्र सिंह सोनू सुल्तानपुर विधानसभा से व यश भद्र सिंह मोनू इसौली से 2022 में अपनी किस्मत आजमाने का प्रयास कर सकते हैं वैसे एक बात ये भी है कि इन दोनों भाईयों का काफ़ी अच्छा जनाधार हैं इसौली और सुल्तानपुर विधानसभा में।

Report- Santosh pandey

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button