भाजपा किसानों को पूंजीपतियों का गुलाम बनाना चाहती है: आप सांसद संजय सिंह

आम आदमी पार्टी के नेता राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने आज सदन में सत्र के दौरान किसान विधेयक के विरोध भाषण की शुरुआत निम्नलिखित पंक्तियों के साथ की -

आम आदमी पार्टी के नेता राज्यसभा सांसद  संजय सिंह जी ने आज सदन में सत्र के दौरान किसान विधेयक के विरोध भाषण की शुरुआत निम्नलिखित पंक्तियों के साथ की –

“झील पर पानी बरसता है हमारे देश में
खेत पानी को तरसता है हमारे देश में
राजनेता हाकिमों और पागलों को छोड़कर
तुम बताओ कौन हंसता है हमारे देश में”

सांसद सिंह ने विधेयक का विरोध करते हुए कहा कि यह सरकार किसानों के लिए इस विधेयक के रूप में काला कानून लेकर आई है। इसके माध्यम से सरकार किसानों को पूंजीपतियों के अधीन करना चाहती है। इस कानून के जरिए सरकार ने किसानों के साथ विश्वासघात एवं धोखाधड़ी करने का काम किया है। यह विधेयक किसानों की आत्मा को बेचने का काम करेगा।

पीलीभीत पुलिस का अमानवीय चेहरा, टूटे हुए हाथ के साथ थाने पहुंचे फरियादी का ही काटा चालान

ज्ञातव्य हो आज केद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर के द्वारा किसानों के उपज व्यापार और कॉन्ट्रैक्ट फार्मिंग से संबंधित दो विधेयक पेश किए गए थे।

सिंह ने कहा कि आम आदमी पार्टी इस बिल का पुरजोर विरोध करेगी तथा सड़क से लेकर संसद तक इस बिल के खिलाफ आवाज उठाएगी ।

सभापति के माध्यम से संजय सिंह जी ने सरकार के विफल नीतियों का जमकर विरोध किया।
अपने संबोधन में उन्होंने इस बात का भी जिक्र किया कि सरकार बार-बार अपनी विभिन्न नीतियों के कारण लोगों को परेशान करने का काम कर रही है। जीएसटी लाने के बाद केंद्र सरकार ने राज्यों का पैसा अभी तक वापस नहीं किया। डैम सेफ्टी बिल के माध्यम से राज्यों के अधिकारों का हनन किया गया है। नोटबंदी लाकर सरकार ने सिर्फ लोगों को परेशान करने का काम किया ।

अमेठी – महिला सब इंस्पेक्टर ने मांगी छुट्टी तो कहा जाओ मर जाओ…

संजय सिंह के अनुसार सरकार लोगों के साथ जुमलेबाजी कर रही है। रोजगार का वादा हो, किसानों की आय दोगुनी करने का वादा हो, एमएसपी डेढ़ गुनी करने का वादा हो, 15 लाख देने का वादा हो, काला धन वापस लाने का वादा हो, मेक इन इंडिया, डिजिटल इंडिया या स्टार्टअप इंडिया हो, इन सब वादों से सरकार ने देश के सवा सौ करोड़ जनता को गुमराह करने का काम किया है।

किसानों के मुद्दे पर लौटते हुए उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा लाए गए इस विधेयक का हरियाणा पंजाब उत्तर प्रदेश मध्य प्रदेश छत्तीसगढ़ बिहार आदि राज्यों के किसान विरोध कर रहे हैं। इस बिल के माध्यम से किसानों को पूंजी पतियों के सामने नीलाम करने जैसा काम किया जा रहा है।

कासगंज :शराब सेल्समैन की हत्या, परिजनों ने सिपाही पर लगाया आरोप

कृषि राज्य मंत्री द्वारा लगाए गए आरोप कि ‘किसानों को विपक्ष के द्वारा भटकाया जा रहा है’ का खंडन करते हुए उन्होंने कहा की आज के नेता नाले के गैस से चाय बना रहे हैं हमें वह दुकान बता दीजिए जहां नाले के गैस से चाय बनती हो हम भी वह चाय पीना चाहेंगे।

उन्होंने दमदार आवाज में कहा कि किसानों को गुमराह भटकाने का काम केंद्र सरकार और उनके मंत्री कर रहे हैं।
अंत में उन्होंने पुनः दोहराया कि आम आदमी पार्टी इस बिल का विरोध करती है और किसानों को न्याय दिलाने के लिए सड़क से लेकर संसद तक इसके खिलाफ विरोध प्रदर्शन करेगी।

ज्ञात हो कि पूरे विपक्ष और खुद के सहयोगी अकाली दल के विरोध के बाद भी राज्यसभा से इस विधेयक को पास कर दिया गया जिसके विरोध में सदन में जम कर हंगामा हुआ। सांसद श्री सिंह ने सभापति के सामने जाकर विरोध प्रदर्शन किया और मार्शल द्वारा उन्हें सदन से बाहर किए जाने के दौरान उन्होंने माइक तोड़ दिया। उन्होंने कहा कि सदन के लिए यह एक काला दिन है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button