सत्ता के अहंकार में किसानों और देश के हर नागरिक की थाली का भी अपमान कर रही है BJP : अखिलेश यादव

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के निर्देश पर अलग-अलग जनपदों के हजारों गांवों में समाजवादी किसान घेरा अभियान में रविवार यानी आज तीसरे दिन भी विधायकों, सांसदों, पूर्व विधायकों, पूर्व सांसदों सहित पूर्व मंत्रियों एवं जिलों के पदाधिकारियों ने सक्रिय भागीदारी निभाई।

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) के निर्देश पर अलग-अलग जनपदों के हजारों गांवों में समाजवादी किसान घेरा अभियान में रविवार यानी आज तीसरे दिन भी विधायकों, सांसदों, पूर्व विधायकों, पूर्व सांसदों सहित पूर्व मंत्रियों एवं जिलों के पदाधिकारियों ने सक्रिय भागीदारी निभाई। गांवों में अलाव पर चौपाल लगाकर किसानों (Farmers) के बीच उनकी समस्याओं पर भाजपा राज में बढ़ती परेशानियों पर चर्चा की गई। किसानों को समाजवादी सरकार के समय उनके हित में किए कामों से भी अवगत कराया। 25 दिसम्बर 2020 से प्रारम्भ किसान घेरा कार्यक्रम सुविधानुसार एक दिन में एक या दो गांवों का चयन कर चलाया जा रहा है। किसान घेरा कार्यक्रम में राज्य के ज्यादा से ज्यादा गांवों तक पहुंचाने का लक्ष्य है।

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा है कि सत्ता के अहंकार में भाजपा किसानों (Farmers) व देश के हर नागरिक की थाली का भी अपमान कर रही है। कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों के आंदोलन का एक महीना पूरा हो गया है। भाजपा अपने प्रिय पूंजीपति मित्रों का समर्थन करते हुए ऐसे रास्ते पर चल पड़ी है, जो किसान, मजदूर एवं निम्न मध्यम वर्ग के खिलाफ जाता हैं।

यह भी पढ़ें : सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने अपने मुख्यमंत्रित्व काल में किसानों का रखा खास ख्याल : राजेन्द्र चौधरी

कैसी विडम्बना है कि एक ओर तो भाजपा सरकार की ओर से आंदोलनकारी किसानों (Farmers) के बारे में तमाम अनर्गल आरोप लगाए जा रहे हैं, जबकि उनसे वार्ता की भी पेशकश की जा रही है। यह अपने अधिकारों के लिए सड़क पर बैठे किसानों का अपमान है। ‘किसान सम्मान‘ की नाममात्र धनराशि देने की आड़ में काले कृषि कानून लागू कर उनका हजारो-लाखों का नुकसान करना चाहती है।

देश-प्रदेश में जबसे भाजपा सरकारें बनी हैं, किसानों (Farmers) के लिए संकट के हालात बन गए हैं। किसानों को फसल का उचित दाम नहीं मिला। फसल बीमा योजना भी बीमा कम्पनियों की कारगुजारियों का शिकार बन गई है। वस्तुतः यह किसान आंदोलन भाजपा सरकार की विफलता का जीवंत स्मारक है। समाजवादी पार्टी अन्नदाता के साथ खड़ी है।

राज्य मुख्यालय पर प्राप्त सूचनानुसार आज पीलीभीत में पूर्व मंत्री हेमराज वर्मा, प्रीतम राम पूर्व विधायक, नीरज गंगवार पूर्व ब्लाक प्रमुख एवं आनंद यादव पूर्व जिलाध्यक्ष, सोनभद्र में रमेश चंद्र दुबे पूर्व विधायक, विजय सिंह गौंड पूर्व मंत्री, फर्रूखाबाद में कुतबुद्दीन तथा जिलाध्यक्ष नदीम फारूकी, सिद्धार्थनगर में लालजी यादव पूर्व विधायक एवं गिरीश चौरसिया, उग्रसेन सिंह, बलरामपुर में पूर्व मंत्री एस.पी. यादव, पूर्व विधायक जगराम पासवान, पूर्व विधायक मसूद अहमद ने किसान घेरा कार्यक्रम में गांवों में चौपाल लगाई।

यह भी पढ़ें : जानें, कौन हैं नीतीश कुमार की जगह JDU की कमान संभालने वाले RCP सिंह, जिन्हें कहा जाता है ‘जदयू का चाणक्य’

प्रतापगढ़ में पूर्व विधायक नागेन्द्र सिंह मुन्ना ने बाबूगंज अंतू में, अम्बेडकरनगर में विधायक सुभाष राय ने शेखपुर पलिवारी निषाद बहुल गांव में, मऊ में पूर्व विधायक राजेन्द्र कुमार, धर्म प्रकाश यादव ने ग्राम खुरहट तथा पूर्व विधायक उमेश पाण्डेय ने मधुबन क्षेत्र में, महाराजगंज में डॉ. श्रीकृष्ण भान सिंह सैथवार ने पनियरा सदर में, विनेश कनौजिया, विनोद मणि त्रिपाठी ने फरेंदा में, कौशल सिंह उर्फ मुन्ना सिंह ने नौतनवा में, मेरठ में जिलाध्यक्ष राजपाल सिह ने धौलड़ी ग्राम में, अतुल प्रधान ने ग्राम नगला में, विपिन मनोठिया ने हस्तिानपुर में, एमएलसी लीलावती कुशवाहा ने मऊ विधानसभा मधुबन में मनूरूलाहपुर में चौपाल लगाई।

अम्बेडकरनगर में पूर्व विधायक जयशंकर पाण्डेय, पूर्व विधायक कुंवर अरूण तथा जिलाध्यक्ष रामसकल यादव ने ग्राम केशवपुर में और आगरा में जिलाध्यक्ष रामगोपाल बघेल के साथ संगठन के अन्य पदाधिकारियों ने गांवों में समाजवादी सरकार की उपलब्धियों से किसानों (Farmers) को अवगत कराया।

यह भी पढ़ें : कर्नाटक : बेटे को लेकर भ्रष्टाचार के आरोपों से घिरे अस्वस्थ येदियुरप्पा ?

गौतमबुद्धनगर में वीरसिंह यादव जिलाध्यक्ष ने ग्राम अट्टा, फतेहपुर में फैजाबाद में जिलाध्यक्ष गंगा सिंह यादव ने मवई ब्लाक में वीरेन्द्र प्रताप सिंह सदस्य जिला पंचायत ने राजापुर बरूआपुर में, श्रावस्ती में पूर्व विधायक हाजी मोहम्मद रमजान ने क्षेत्र में, कन्नौज में अरविन्द सिंह ने भोजपुर व जमामर्दपुर में, एटा में पूर्व विधायक अनिल कुमार सिंह ने मौजी ग्राम में, पिंकी यादव विधायक ने अतरासी में, प्रयागराज में संदीप पटेल एवं रक्षामंत्री यादव ने, बहराईच में पूर्व विधायक मुकेश श्रीवास्तव ने अपने आवास और बस्ती में, महेन्द्र नाथ यादव जिलाध्यक्ष ने बस्ती सदर के गांवों में समाजवादी किसान घेरा कार्यक्रम के तहत किसानों (Farmers) के बीच रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button