ऋषभ पंत ने भारत लौटने के बाद दिया बड़ा बयान, बोले- यह मेरे जीवन का…

इंडिया (India) और ऑस्ट्रेलिया के बीच ब्रिस्बेन के गाबा इंटरनेशनल स्टेडियम में खेले गए चौथे और निर्णायक मैच में भारतीय बल्लेबाजों ने अपने शानदार प्रदर्शन से गाबा के मैदान पर तिरंगा लहरा दिया.

इंडिया (India) और ऑस्ट्रेलिया के बीच ब्रिस्बेन के गाबा इंटरनेशनल स्टेडियम में खेले गए चौथे और निर्णायक मैच में भारतीय बल्लेबाजों ने अपने शानदार प्रदर्शन से गाबा के मैदान पर तिरंगा लहरा दिया. शुभमन गिल और ऋषभ पंत (Rishabh Pant) की शानदार पारी की बदौलत इंडिया ने ऑस्ट्रेलिया को तीन विकेट से हराकर टेस्ट सीरीज को 2-1 से नाम कर लिया. इसी जीत के साथ भारत (India) ने बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी में जीत की हैट्रिक लगा दी है. इससे पहले दो बार लगातार इंडिया (India) ने इस सीरीज पर अपना कब्जा जमाया है. पंत (Rishabh Pant) ने कहा कि, यह मेरे जीवन का अभी तक सबसे बड़ा पल है. मैं इस बात से खुश हूं कि सपोर्ट स्टाफ और मेरी टीम के सभी साथियों ने तब मेरा साथ दिया जब मैं खेल नहीं रहा था. यह सपने जैसी सीरीज रही है.”

इंग्लैंड के खिलाफ 5 फरवरी से शुरू होने जा रहे घरेलू टेस्ट सीरीज से ऑलराउंडर रविंद्र जडेजा बाहर हो गए हैं. सिडनी में तीसरे टेस्ट के दौरान अंगूठे में चोट लगने की वजह से उन्हें सीरीज से बाहर किया गया है. अंगूठे में फ्रैक्चर होने के बाद ऑस्ट्रेलिया में उनकी सर्जरी कराई गई थी. लेकिन ठीक होने में अभी भी उन्हें करीब 6 हफ्ते का समय लगेगा.

इंग्लैंड के खिलाफ भारत चार टेस्ट, पांच टी20 इंटरनेशनल और तीन वनडे मैच खेले जाने हैं. पहले दो टेस्ट मैचों के लिए खिलाड़ियों का चयन भी किया जा चुका है. ये दोनों टेस्ट टेन्नई में खेले जाएंगे. जबकि अगले दो मैच अहमदाबाद में होंगे. वहीं बीसीसीआई के मुताबिक, टी20 और वनडे में जडेजा के खेलने पर फैसला बाद में लिया जाएगा.

यह भी पढ़ें- IPL 2021: किंग्स इलेवन पंजाब ने इन खिलाड़ियों को दी जगह, लेकिन ग्लेन मैक्सवेल को…

बता दें कि, पहले दो टेस्ट मैच के लिए हुए खिलाड़ियों के चयन में रविंद्र जडेजा को शामिल नहीं किया गया था. लेकिन अब उसके बाद के दो मैचों के लिए भी सीरीज से बाहर कर दिया गया है. जडेजा ब्रिस्बेन में खेले गए टेस्ट मैच से भी बाहर रहे थे.

मिली जानकारी के अनुसार, रविंद्र जडेजा बेगलुरु में राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी में रिहैब की प्रक्रिया से गुजरेंगे. बताया गया है कि, उन्हें पूरी तरह से ठीक होने में छह सप्ताह से अधिक का समय लगेगा.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button