मेरठ किसान महापंचायत में प्रियंका गांधी ने भरी हुंकार, बोलीं- मैं अपनी आखिरी सांस तक किसानों के लिए लड़ाई लड़ती रहूंगी

कांग्रेस (Congress) महासचिव प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) ने रविवार को मेरठ (Meerut) जिले में आयोजित किसान महापंचायत (Kisan Mahapanchayat) में केंद्र सरकार (Central Government) पर जमकर निशाना साधा।

कांग्रेस (Congress) महासचिव प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) ने रविवार को मेरठ (Meerut) जिले में आयोजित किसान महापंचायत (Kisan Mahapanchayat) में केंद्र सरकार (Central Government) पर जमकर निशाना साधा। प्रियंका गांधी ने किसान महापंचायत में कहा कि वह अपनी आखिरी सांस तक किसानों के लिए लड़ाई लड़ती रहेंगी, चाहे वह 100 दिन हों या 100 साल। इसके साथ ही उन्होंने किसानों से आग्रह किया कि हर गांव से दिल्ली की सीमा पर जाकर विरोध प्रदर्शन करें।

किसानों के लिए आखिरी सांस तक लड़ाई लड़ती रहूंगी- प्रियंका गांधी

किसान महापंचायत में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) ने कहा, ‘जब भी आप मुसीबत में होंगे, आप कांग्रेस को हर जगह अपने साथ खड़े पाएंगे। आपकी लड़ाई हमारी लड़ाई है और मैं अपनी आखिरी सांस तक आपके साथ रहूंगी।’

ये भी पढ़ें- पेट्रोल, डीजल और LPG की बढ़ी कीमतों के बाद आम जनता को एक और बड़ा झटका!, अब…

उन्होंने (Priyanka Gandhi) कहा, ‘ये कृषि कानून किसानों के हित में नहीं हैं। ये कानून सबसे बड़े हितधारकों यानी किसानों से परामर्श किए बिना बनाए गए हैं। सरकार कहती है कि ये कानून किसानों के फायदे के लिए हैं, लेकिन सच्चाई इसके उलट है। ये कानून पूंजीपतियों के फायदे के लिए बनाए गए हैं।’

सरकार को किसानों की चिंता नहीं- प्रियंका गांधी 

इसके अलावा प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) ने प्रधानमंत्री मोदी पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि ‘100 दिनों से किसान दिल्ली की सीमाओं पर बैठे हैं, लेकिन सरकार को जरा भी इनकी चिंता नहीं है। यह सरकार वास्तव में प्रधानमंत्री के दोस्तों द्वारा चलाई जा रही है।’

ये भी पढ़ें- अमेठी : दबंगों ने दलित की बेटी के साथ की छेड़छाड़, फूंका दलित का घर

गन्ना बकाया के भुगतान में देरी पर भी चिंता जताते हुए उन्होंने कहा कि ‘सरकार के पास दो हवाई जहाज खरीदने के लिए पैसे हैं, लेकिन गन्ना किसानों के बकाये का भुगतान ये नहीं करते। जब मेरे भाई राहुल गांधी ने आंदोलन के दौरान मारे गए किसानों के सम्मान में संसद में दो मिनट का मौन रखा, तो सत्तापक्ष का एक भी सदस्य खड़ा नहीं हुआ। क्या यह किसानों का अपमान नहीं है?”

गौरतलब है कि मेरठ की किसान पंचायत में शामिल होने के लिए प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) ट्रैक्टर पर बैठकर कार्यक्रम स्थल पर पहुंचीं और किसानों का स्वागत किया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button