लखनऊ की पौलोमी पाविनी शुक्ला Forbes 30 Under 30 सूची में सम्मिलित

अधिवक्ता Poulomi Pavini भारत में अनाथ बच्चों की दुर्दशा पर वर्ष 2015 में "Weakest on Earth - Orphans of India" पुस्तक अपने भाई Amand के साथ मिलकर लिखी, जो विख्यात प्रकाशन संस्थान Bloomsbury द्वारा प्रकाशित की गई।

लखनऊ की पौलोमी पाविनी शुक्ला को विश्व विख्यात पत्रिका फोर्ब्स ने भारत की 30 Under 30 सूची में सम्मिलित कर सम्मानित किया है। फोर्ब्स पत्रिका प्रति वर्ष 30 ऐसे व्यक्तियों की सूची जारी करती है। 

फोर्ब्स पत्रिका ने वर्ष 2021 की अपनी 30 Under 30 सूची में सम्मिलित

जो 30 वर्ष की आयु से कम हैं तथा अपने क्षेत्र में अति महत्वपूर्ण कार्य किया है। पौलोमी पाविनी शुक्ला द्वारा अनाथ बच्चों की शिक्षा हेतु महत्वपूर्ण योगदान के लिए फोर्ब्स पत्रिका ने वर्ष 2021 की अपनी 30 Under 30 सूची में सम्मिलित किया है।

ये भी पढ़ें – भीख मांगने वाली दिव्यांग महिला से डीजल भरवाने के नाम पर पैसा ऐंठने वाला चौकी प्रभारी निलंबित

अधिवक्ता Poulomi Pavini भारत में अनाथ बच्चों की दुर्दशा पर वर्ष 2015 में “Weakest on Earth – Orphans of India” पुस्तक अपने भाई Amand के साथ मिलकर लिखी, जो विख्यात प्रकाशन संस्थान Bloomsbury द्वारा प्रकाशित की गई।

ये भी पढ़ें – मुस्लिमों ने पुलिस का सायरन बंद करवाने के लिए उठाया ये कदम, बोले-

इसके उपरांत वर्ष 2018 में इन्होंने मा० उच्चतम न्यायालय में अनाथ बच्चों के लिए जनहित याचिका भी दायर की। अपनी पुस्तक तथा जनहित याचिका के माध्यम से इनके द्वारा अनाथ बच्चों को शिक्षा तथा अन्य सुविधाओं में समान अवसर दिलवाने हेतु कई वर्षों से कार्य किया जा रहा है।

पौलोमी पाविनी शुक्ला को कई राज्यों में सम्मानित भी किया जा चुका है

इनके इस कार्य से कई राज्यों में अनाथ बच्चों की बेहतरी के लिए अनेक कदम उठाए गए, जिसके लिए पौलोमी पाविनी शुक्ला को कई राज्यों में सम्मानित भी किया जा चुका है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button