लखनऊ: मुस्लिम जोड़े को लव जिहाद के नाम पर पीटने वाले पुलिस अधिकारी हों निलंबित- शाहनवाज आलम

लव जिहाद की अफवाह फैलाने वाले हिन्दू युवा वाहिनी के कार्यकर्ताओं पर दर्ज हो मुकदमा

लखनऊ। उत्तर प्रदेश कांग्रेस अल्पसंख्यक कांग्रेस प्रदेश चेयरमैन शाहनवाज आलम ने कुशीनगर में हिन्दू युवा वाहिनी द्वारा फैलाये गए लव जिहाद (love jihad) की अफवाह पर पुलिस द्वारा मुस्लिम जोड़े को शादी के दौरान उठा ले जाने और पीटने की घटना को पुलिस और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की निजी गुंडा संगठन का संयुक्त अपराध बताया है।

पुलिस ने उन्हें थाने ले जाकर बेल्ट से घण्टों पीटा

शाहनवाज आलम ने जारी बयान में कहा कि हैदर अली और शबीला खातून की शादी मुस्लिम रीति से हो रही थी। जिस पर हिन्दू युवा वाहिनी के कार्यकर्ताओं ने पुलिस को लव जिहाद (love jihad) का मामला बता कर शादी को न सिर्फ रुकवा दिया बल्कि पुलिस ने उन्हें थाने ले जाकर बेल्ट से घण्टों पीटा। जबकि दोनों ही मुस्लिम थे।

ये भी पढ़ें – Shocking: सजा शादी का मंडप, दुल्हन बनीं मां-बेटी और फिर लिये सात फेरे…

लोगों की निजता में व्यवधान डालने की धाराओं में मुकदमा दर्ज करने की मांग

शाहनवाज आलम ने कुशीनगर एसपी विनोद कुमार सिंह से अफवाह फैलाने वाले हिन्दू युवा वाहिनी के कार्यकर्ताओं के खिलाफ शांति भंग करने, साप्रदायिक अफवाह फैलाने और लोगों की निजता में व्यवधान डालने की धाराओं में मुकदमा दर्ज करने की मांग की है। उन्होंने स्थानीय सीओ पीयूष कांत राय और हिन्दू युवा वाहिनी के अपराधी तत्वों के बीच मिलीभगत की जांच कराने और उन्हें अविलम्ब निलंबित करने की भी मांग की है।

शाहनवाज आलम ने कहा कि मुख्यमंत्री खुद हिन्दू युवा वाहिनी के सरगना हैं और उनके साम्प्रदायिक एजेंडे को आगे बढ़ाने के लिए पुलिस और हिन्दू युवा वाहिनी इस तरह की हरकतें करके माहौल बिगाड़ने में लगे हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि गोरखपुर और देवीपाटन मंडल में कई जगहों पर पुलिस और हिन्दू युवा वाहिनी के लोग अवैध वसूली में लिप्त हैं जिन्हें मुख्यमंत्री का संरक्षण प्राप्त है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button