आजमगढ़ : साइबर ठगी करने वाला अंतर्जनपदीय गैंग का सदस्य दिल्ली से पुलिस ने किया गिरफ्तार

आजमगढ़ साइबर क्राइम थाना आजमगढ़ ने एक बड़ी सफलता हासिल करते हुए दिल्ली में काल सेन्टर बनाकर लोगों के क्रेडिट कार्ड का डिटेल प्राप्त कर साइबरी ठगी करने वाले अन्तर्राज्यीय गैंग के सदस्यों को दिल्ली से गिरफ्तार कर लिया।

आजमगढ़ साइबर क्राइम थाना आजमगढ़ ने एक बड़ी सफलता हासिल करते हुए दिल्ली में काल सेन्टर बनाकर लोगों के क्रेडिट कार्ड का डिटेल प्राप्त कर साइबरी ठगी करने वाले अन्तर्राज्यीय गैंग के सदस्यों को दिल्ली से गिरफ्तार कर लिया। बतातें चलें कि विगत 21 नवम्बर 2020 को विवेक अस्थाना निवासी मड़या कोतवाली आजमगढ़ ने साइबर क्राइम थाना परिक्षेत्र आजमगढ़ को सूचना दिया कि साइबर ठगों ने मेरे मोबाइल नम्बर पर कस्टमर केयर बनकर काल करके मेरे आईसीआईसीआई एवं इण्डसइंड बैंक के क्रेडिट कार्ड की डिटेल बताकर मुझसे धोखे से ओटीपी प्राप्त कर कुल 135100 रूपये निकाल लिये। पीड़ित द्वारा दी गई तहरीर के आधार पर साइबर थाना पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी।

जांच के दौरान अभिषेक कुमार पुत्र राकेश कुमार निवासी वी-16 पुराना नांगल, थाना दिल्ली कैण्ट जिला दक्षिणी दिल्ली, नरेन्द्र कुमार पुत्र रामधन निवासी वी-60 पुराना नांगल, थाना दिल्ली कैण्ट जिला दक्षिणी दिल्ली तथा गीताराम पुत्र मुन्ना लाल निवासी प्लाट 200 श्रीराम चैक थाना मोहन गार्डन जिला द्वारका दिल्ली का नाम प्रकाश में आया। जिनके द्वारा मिलकर साइबर ठगी की गयी। साइबर पुलिस टीम ने 19 जुलाई को अभियुक्त अभिषेक कुमार पुत्र राकेश कुमार निवासी वी-16 पुराना नांगल, थाना दिल्ली कैण्ट जिला दक्षिणी दिल्ली को उसके घर से गिरफ्तार कर घटना में प्रयुक्त कालिंग मोबाईल को बरामद कर लिया। पूछताछ में अभियुक्त ने स्वीकार किया कि सात माह पूर्व पश्चिम बिहार रेडिसन होटल के पीछे भैरो एनक्लेव 1 फ्लोर पर काल सेन्टर चलाते थे जिसमें अलग-अलग जगह के 15-20 लोग कार्य करते थे । मेरा साथी मयंक जो क्रेडिट कार्ड की डिटेल (नाम, पता, मो0नं0, क्रेडिट कार्ड नं0, सीवीवी नं0) थर्ड पार्टी से प्राप्त करके क्रेडिट कार्ड होल्डर को कस्टमर केयर बनकर काल करते थे और उनसे उनकी क्रेडिट कार्ड की लिमिट बढाने के नाम पर धोखे से ओ0टी0पी0 प्राप्त कर पेमेन्ट गेटवे के माध्यम से विभिन्न बैंक खातो में पैसा जमा कराकर साइबर ठगी को अंजाम देते हैं। लोगों को जानकारी हो जाने की वजह से वर्तमान समय में कालसेन्टर बन्द हो गया हैं। पुलिस ने अभियुक्त को गिरफ्तार कर कानूनी कार्रवाई करते हुए जेल भेज दिया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button