बांदा : पुलिस प्रशासन हुआ फेल आखिर कब खत्म होगा बच्चों के लापता होने के बाद मौत का खेल

72 घंटे पहले रहस्यमय तरीके से गायब हुए बच्चे का नदी के किनारे शव पाया गया, जिले की भाजपा नेत्री का था पुत्र

उत्तर प्रदेश के बांदा में मानो बच्चों के लापता होने के बाद उनकी हत्याओं का सिलसिला लगातार जारी है। आए दिन क्षेत्र से कोई न कोई बच्चा अचानक गायब हो जाता है। और कुछ घंटों बाद ही उसका शव किसी न किसी नदी या तालाब के किनारे बरामद हो जाता है। अगर हाल ही में लापता हुए बच्चों की मौत की बात करें तो अभी बीते 3 दिनों के अंदर 3 बच्चों की लापता होने के बाद मौत हो चुकी है ऐसा ही एक मामला आज फिर जनपद में सामने आया है।

सवालिया निशान खड़े

यहां 72 घंटे पहले रहस्यमय तरीके से गायब हुए बच्चे का नदी के किनारे शव पाया गया है। जिसके बाद से जिले की पुलिस व्यवस्था पर सवालिया निशान खड़े हो रहे हैं कि आखिर क्या वजह है कि जनपद में लगातार बच्चे गायब हो जाते हैं और उनकी हत्या हो जाती है। फिलहाल अभी तक जिन बच्चों की लापता होने के बाद हत्या हुई है। उनका अभी तक जिले की पुलिस के द्वारा खुलासा तक नहीं किया गया है।

रहस्यमई तरीके से गायब

जनपद में 72 घंटे पहले रहस्यमय तरीके से लापता हुए जिस बच्चे का शौक पुलिस को बरामद हुआ है। वह जिले की भाजपा नेत्री का पुत्र था। बच्चे के लापता होने के बाद परिजनों के द्वारा संबंधित थाने में सूचना दी गई सूचना के बाद से ही पुलिस ने मामले को संज्ञान में लेते हुए कार्रवाई शुरू कर दी। आपको बता दे पूरा मामला बांदा जनपद के शहर कोतवाली अंतर्गत का है जहां पर भाजपा नेत्री का पुत्र 72 घंटे पहले रहस्यमई तरीके से गायब हो गया था।

जन्मदिन पर गया था

जिसका आज नदी के किनारे शव बरामद हुआ है। पूरे मामले की जानकारी देते हुए परिजनों ने बताया कि हमारा बेटा अमन त्रिपाठी जिसकी उम्र 13 वर्ष थी वह विगत 11 अक्टूबर को अपने घर से दोस्त के जन्मदिन पर जाने के लिए बता कर मोटरसाइकिल लेकर निकल गया था। लेकिन काफी देर बाद जब हुआ वापस नहीं आया। तो परिजनों के द्वारा जिस जगह वह जन्मदिन पर गया था। पता किया गया तो बच्चा वहां पर नहीं पहुंचा था।

छानबीन तेज हो गई

उसके बाद तमाम छानबीन करने के बाद यह पता लगा कि बच्चे का मोबाइल शहर के झील का पुरवा इलाके में रोड के किनारे स्विच ऑफ पड़ा था। और वही बच्चे की गाड़ी शहर के कनवारा गांव के पास बन रहे एक्सप्रेस वे के पास पाई गई। उसके बाद से पुलिस की छानबीन तेज हो गई। 72 घंटे छानबीन करने के बाद देर रात बच्चे के कपड़े शहर के अतर्रा रोड स्थित नहर के किनारे पाए गए। उसके बाद स्थानीय लोगों की सूचना पर पुलिस को यह बताया गया कि नदी के किनारे एक बच्चे का शव पड़ा है।

बच्चों की हत्याओं पर लगाम नहीं

जिस पर पुलिस ने तत्काल एक्शन लेते हुए मौके पर पहुंचकर देखा तो वह शव उसी बच्चे का था। जो कि 72 घंटे पहले रहस्य तरीके से लापता हो गया था। आप कहीं ना कहीं इस बच्चे के शव मिलने के बाद स्थानी पुलिस सवालों के घेरे में आ चुकी है। क्योंकि जनपद में बीते 3 दिनों के भीतर यह तीसरे बच्चे की मौत है। जो कि लापता होने के बाद हुई है आखिर क्या वजह है कि जनपद की पुलिस लापता हो रहे बच्चों की हत्याओं पर लगाम नहीं लगा पा रही है।

इकलौता पुत्र था

जनपद की पुलिस एक बच्चे की हत्या का खुलासा नहीं कर पाती है। वही दूसरे ही बच्चे की मौत हो जाती है। अब सोचने वाली बात यह है कि जनपद में एक के बाद एक लापता हो रहा है। बच्चों की हत्याओं का मामला कब रुकेगा और जनपद की पुलिस इन सभी हत्याओं का खुलासा कब कर पाएगी। बताते चलें कि मृतक बच्चा अमन त्रिपाठी जिले की भाजपा नेत्री मधु त्रिपाठी का इकलौता पुत्र था। जिसकी आज रहस्यमय तरीके से हत्या कर दी गई।

पुलिस से अपील

मृतक बच्चे के पिता ने बताया कि मेरा बच्चा पास के रघुवंशी कोचिंग सेंटर में पढ़ने के लिए जाता था। कोचिंग नहीं विगत 18 सितंबर को कोचिंग के लड़कों के साथ विवाद हो गया था। उसके बाद कोचिंग के तमाम लड़के उनके घर पर भी मारपीट करने के उद्देश्य से आए थे। इतना ही नहीं जनपद के देहात कोतवाली थाना क्षेत्र अंतर्गत जारी गांव के रहने वाले कमल ठाकुर ने भी घर में आकर मेरे बच्चे को जान से मारने की धमकी दी थी। उसके बाल अब अचानक यह घटना हो गई है। पता कि घटना के बाद से ही पूरे परिवार में मातम का माहौल छाया हुआ है। परिजनों ने जल्द से जल्द हत्या का खुलासा करने के लिए पुलिस से अपील भी की है। अब देखना यह है कि क्या पुलिस इस हत्या का खुलासा कर पाएगी या नहीं।

कार्यवाही सुनिश्चित की जाएगी

वहीँ दूसरी तरफ पूरे मामले की जानकारी देते हुए पुलिस अधीक्षक अभिनंदन ने बताया कि जैसे ही पुलिस को एक बच्चे की गुमशुदा होने की जानकारी मिली। तो तत्काल मेरे द्वारा एसओजी व सर्विलांस की टीम बना कर बच्चे की छानबीन शुरू कर दी गई थी। आज उस बच्चे का शव केन नदी में पाया गया है। पुलिस ने मौके पर पहुच शव का पंचनामा करते हुए पोस्मार्टम के लिए भेज दिया है। वहीं बच्चा जिन लोगों के साथ पार्टी में गया था उनसे भी पूछताछ कर रही है। जैसे ही कुछ पता चलता है उसके ही आधार पर आगे की कार्यवाही सुनिश्चित की जाएगी।

संजय त्रिपाठी(मृतक बच्चे का पिता)

अभिनंदन(पुलिस अधीक्षक बाँदा)

रिपोर्टर : इल्यास खान

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button