आजमगढ़ की सभी सीटों पर चुनावी मैदान में उतरेगी ओवैसी की पार्टी

आजमगढ़ एआईएमआईएम अखिलेश यादव के गढ़ आजमगढ़ में परिवर्तन मोर्चा के साथ मिलकर जिले की सभी 10 विधानसभा सीटों पर विधानसभा चुनाव लड़ेगी।

आजमगढ़ फायर ब्रांड नेता असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन यानी एआईएमआईएम अखिलेश यादव के गढ़ आजमगढ़ में परिवर्तन मोर्चा के साथ मिलकर जिले की सभी 10 विधानसभा सीटों पर विधानसभा चुनाव लड़ेगी। मंगलवार के दिन शहर के बिलरिया की चुंगी क्षेत्र में आयोजित प्रेस वार्ता के दौरान पार्टी के जिला अध्यक्ष नदीम आरिफ ने बताया कि ए आई एम आई एम गठबंधन ने अब तक जिले की 9 विधानसभा सीटों पर प्रत्याशी घोषित कर दिए हैं सिर्फ मुबारकपुर सीट पर प्रत्याशी घोषित किया जाना बाकी है।

उन्होंने बताया कि सदर विधानसभा सीट पर शिब्ली नेशनल कॉलेज के पूर्व छात्र संघ अध्यक्ष कमर कमाल को प्रत्याशी बनाया गया है जबकि गोपालपुर में अब्दुल्ला मेहनगर विधानसभा सीट पर कर्मवीर आजाद दीदारगंज में जावेद आलम को पार्टी ने प्रत्याशी बनाया है जबकि निजामाबाद सीट पर रिहाई मंच के राजीव यादव का पार्टी समर्थन कर रही है। जिले की शेष अतरौलिया सगड़ी लालगंज और फूलपुर विधानसभा सीट पर जन अधिकार पार्टी के प्रत्याशी मैदान में है। पार्टी के जिला अध्यक्ष ने कहा कि सपा बसपा से अब जनता ऊब चुकी है.

जबकि भाजपा के डबल इंजन की सरकार हर मोर्चे पर फेल है ऐसे में ए आई एम आई एम लोगों के बीच बेहतर विकल्प बन चुकी है। उन्होंने इस बात से इनकार किया कि आजमगढ़ अखिलेश यादव का गढ़ है कहा कि अगर गढ़ होता तो अखिलेश यादव आजमगढ़ से भागकर करहल में चुनाव लड़ने नहीं जाते।

भाजपा की बी टीम-

उन्होंने ए आई एम आई एम को भाजपा की बी टीम मानने से इनकार करते हुए कहा इस समय समय पर सपा बसपा भाजपा के साथ रही हैं फिर हमारे ऊपर आरोप क्यों लगता है। जिला अध्यक्ष ने कहा कि पार्टी सिर्फ मुस्लिम वर्ग की नुमाइंदगी नहीं कर करती बल्कि समाज के हर वर्ग को साथ लेकर चलती है। यही कारण है कि यूपी चुनाव में टिकट वितरण में हर वर्ग के लोगों को टिकट दिया गया है।

सदर सीट –

प्रेस वार्ता के दौरान सदर विधानसभा सीट से प्रत्याशी बनाए गए 2017 के शिब्ली कॉलेज के छात्र संघ अध्यक्ष रह चुके कमर कमाल ने कहा की आजमगढ़ सदर में पिछले 40 साल से कोई विकास कार्य नहीं हुआ है यहां तक कि सदर विधायक दुर्गा प्रसाद यादव के घर तक जाने वाला रास्ता भी गड्ढों में तब्दील है शिक्षा स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है और इन्हीं सब बुनियादी मुद्दों को लेकर हम चुनाव लड़ रहे हैं।

उनका कि अभी तक सपा बसपा जैसी पार्टियों ने मुसलमानों को सिर्फ वोट बैंक के रूप में इस्तेमाल किया है और ऐसे राजनीतिक दल मुसलमानों को अपने पैरों पर खड़ा नहीं होने देना चाहते इसीलिए ओवैसी साहब को भाजपा की बी टीम बताया जाता है कहा कि सीए एनआरसी जैसे मुद्दे पर सेकुलर दल बेनकाब हो चुके हैं इन्होंने हमारा साथ नहीं दिया। दावा किया कि 10 मार्च को चुनाव के नतीजे हमारे हक में होंगे।

बाइट:- जिला अध्यक्ष (एआईएमआईएम)

बाइट:- कमर कमाल (सदर विधानसभा प्रत्याशी एआईएमआईएम)

Back to top button