आचार संहिता के पहले ही दिन भाजपा सांसद-विधायक ने उड़ाई आचार संहिता की धज्जियां

बरेली की 120 भोजीपुरा विधानसभा से भाजपा विधायक बहोरन लाल मौर्या ने चुनाव आयोग की बंदिशों की धज्जियां उड़ाते हुए क्षेत्र में भीड़ भी जुटाई और आचार संहिता के नियम-कायदे लांघकर लोगों को कंबल बांटकर उन्हें जमकर खाना भी खिलाया।

बरेली। विधानसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान हुए अभी एक दिन भी नहीं बीता है कि सत्तारूढ़ भाजपा से जुड़े चेहरे सबसे पहले आचार संहिता के बैरियर तोड़ते नजर आने लगे हैं। बरेली की 120 भोजीपुरा विधानसभा से भाजपा विधायक बहोरन लाल मौर्या ने चुनाव आयोग की बंदिशों की धज्जियां उड़ाते हुए क्षेत्र में भीड़ भी जुटाई और आचार संहित के नियम-कायदे लांघकर लोगों को कंबल बांटकर उन्हें जमकर खाना भी खिलाया।

पूर्व केन्द्रीय मंत्री सांसद संतोष गंगवार ने नियम विरूद्ध विधायक के जलसे में बढ़-चढ़कर भाग लिया। मीडिया प्रतिनिधियों ने कार्यक्रम की फोटो एवं वीडियोग्राफी की तो विधायक जी गलती मानने की जगह उल्टा गुस्से से लाल-पीले होते दिखाई दिए।

इसे भी पढ़ें – यूपी विधानसभा चुनाव 2022 – BSP ने अम्बेडकर नगर की दो सीट पर प्रत्याशी किये घोषित 

चुनाव आयोग ने शनिवार को यूपी समेत पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान कर दिया है। उसी समय से सभीो सम्बंधित राज्यों में चुनाव आचार संहिता भी लागू हो गई । आयोग ने कोरोना संक्रमण बढ़ने की आशंका को देखते हुए 15 जनवरी तक सभी चुनावी रैली, रोड शो, नुक्कड़ सभाएं और यहां तक कि समूह में प्रचार करने पर भी पूरी तरह रोक लगा दी है। नेताओं को डोर टू डोर प्रचार के लिए सिर्फ पांच की संख्या में ही घूमने की इजाजत चुनाव आयोग ने दी है। जिसका खुला उलंघन बरेली के भोजीपुरा विधानसभा क्षेत्र देखने को मिला।

दरअसल बरेली के भोजीपुरा कस्बे में रविवार को भाजपा नेताओं ने जो कुछ किया है, उसे साफ-साफ आचार संहिता व आयोग की बंदिशों के उल्लंघन से जोड़कर देखा जा रहा है। भोजीपुरा के दिव्यानंद आश्रम में भोजीपुरा विधायक बहोरन लाल मौर्य व सांसद संतोष गंगवार ने चुनाव आयोग का खुला उल्लंघन करते हुए कार्यकर्ताओं और क्षेत्रीय जनता को कंबल बितरण किए। जमकर खाना भी खिलाया। विधायक ने कार्यक्रम में बड़ी संख्या में लोग बुलाए थे। मीडिया को इसकी सूचना नहीं दी गई थी। जानकारी होने पर मीडिया प्रतिनिधि कवरेज को पहुंचे तो विधायक बहोरन लाल मौर्य नाराज हो गये। कार्यक्रम में पूरे समय सांसद संतोष गंगवार की मौजूदगी भी नजर आई।

सवाल ये उठता है कि आचार संहिता का उल्लंघन होते देखकर भी पुलिस ने कार्यक्रम क्यों नहीं रुकवाया। जबकि कई पुलिसकर्मी मौके पर दिखाई भी दे रहे थे। विधायक बहोरन लाल मौर्य का कंबल बितरण और भोज कार्यक्रम अब मीडिया की सुर्खियां बन रहा है तो प्रशासन जांच की बात कह रहा है। एसडीएम सदर कुमार धर्मेन्द्र ने मीडिया को बताया कि भोजीपुरा में कार्यक्रम होने की सूचना मिलते ही थाना प्रभारी को मौके पर भेजा गया था। पुलिस की रिपोर्ट आने पर आगे की कार्रवाई की जाएगी।

रिपोर्टर – फजल-उर-रहमान

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button