लखनऊ नगर निगम में नए साल से नई व्यवस्था होगी लागू

राजधानी लखनऊ के  नगर निगम में नए साल से नई व्यवस्था लागू होने जा रही है। नगर निगम में लेटलतीफ कर्मियों पर शिकंजा  कसेगा। नए साल से नगर निगम में नया सिस्टम लागू होने जा रहा है। 

राजधानी लखनऊ के  नगर निगम (Municipal Corporation) में नए साल से नई व्यवस्था लागू होने जा रही है। नगर निगम में लेटलतीफ कर्मियों पर शिकंजा  कसेगा। 

 लखनऊ नगर आयुक्त ने आदेश जारी किया

नगर निगम (Municipal Corporation)  कर्मियों की 311 एप से उपस्थिति दर्ज होगी। सुबह व शाम दोनों वक्त उपस्थिति दर्ज करानी होगी। नगर निगम में 4000 हजार कर्मचारी काम करते हैं। लखनऊ नगर आयुक्त ने आदेश जारी किया।

नगर निगम (Municipal Corporation)  में समय पर न आने वाले कर्मचारियों पर सख्ती को लेकर नए साल से नया सिस्टम लागू हो जाएगा। इसमें लोकेशन और सेल्फी के साथ कर्मचारी को लखनऊ 311 एप पर ऑनलाइन सुबह व शाम को उपस्थिति दर्ज करनी होगी। इसके आधार पर वेतन बनेगा। इसे लेकर नगर आयुक्त ने आदेश भी जारी कर दिया है। गुजराती कंपनी का यह एप स्मार्ट सिटी कंपनी में पहले से लागू है।

जीपीएस लोकेशन के साथ फीड कर दिया गया है

निगम कर्मचारियों का डेटा उनके जोन और विभाग के आधार पर जीपीएस लोकेशन के साथ फीड कर दिया गया है।ऐसे में जब कर्मचारी अपने जोन और विभाग में जाएंगे तो वह एप के जरिए हाजिरी सेल्फी के साथ दर्ज कर सकेंगे। ऐसा न करने वाला कर्मचारी गैरहाजिर माना जाएगा। सुबह ऑफिस आने के बाद और शाम को जाने से पहले हाजिरी लगानी होगी।

आपको बता दें कि चार साल पहले नगर निगम ने लाखों के खर्च से बायोमेट्रिक सिस्टम लगवाया था। कुछ समय तक इससे अटेंडेंस तो लगी, लेकिन यह सिस्टम जल्दी ध्वस्त हो गया। इसके पीछे मुख्य वजह मशीनें को मुख्यालय में लगाना था। जोनल कार्यालय, केंद्रीय कार्यशाला, मार्ग प्रकाश विभाग में बायोमेट्रिक मशीनें नहीं लगाई गईं थीं।

नया सिस्टम लागू होने के बाद ऐसे लापरवाह कर्मचारियों पर लगाम लगेगी

नगर निगम में काफी कर्मचारी ऐसे हैं जो सिर्फ वेतन लेते हैं, लेकिन काम पर नहीं जाते। गृहकर व सफाई में ऐसे कर्मचारियों की तादाद ज्यादा है। नया सिस्टम लागू होने के बाद ऐसे लापरवाह कर्मचारियों पर लगाम लगेगी।

अगले महीने से लखनऊ 311 एप से हाजिरी दर्ज करने की तैयारी है। इसे लेकर आदेश भी जारी कर दिया गया है। वेतन भी एप पर दर्ज होने वाली हाजिरी के आधार पर ही जारी किया जाएगा। एप डाउनलोड करने के लिए निर्देश पहले ही सभी कर्मचारियों को जारी किए जा चुके हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button