लखनऊ- स्मार्टमीटर डिस्कनेक्शन मामले में UPPCL के MD ने लिया बड़ा फैसला…

लखनऊ- स्मार्टमीटर डिस्कनेक्शन मामले में UPPCL के MD ने लिया बड़ा फैसला...

MD UPPCL big decision Smart Meter disconnection case Lucknow:- लखनऊ- स्मार्टमीटर डिस्कनेक्शन मामले में UPPCL के MD ने लिया बड़ा फैसला…

MD UPPCL big decision Smart Meter disconnection case Lucknow:-

स्मार्टमीटर डिस्कनेक्शन मामले को लेकर बड़ा फैसला।

अगले 15 दिनों तक स्मार्टमीटर लगाने पर लगी रोक।

UPPCL के MD एम देवराजन ने स्मार्टमीटर पर लगाई रोक।

स्मार्टमीटर डिस्कनेक्शन मामले में कई स्तर पर हो रही है जांच।

STF समेत एक विशेष कमेटी भी कर रही स्मार्टमीटर डिस्कनेक्शन की जांच।

जन्माष्टमी के दिन स्मार्टमीटर डिस्कनेक्शन से लाखों की गुल हो गई थी बिजली।

फिलहाल ग़लत कमांड देने से स्मार्टमीटर डिस्कनेक्शन होने का किया जा रहा दावा।

स्मार्टमीटर की कार्यप्रणाली पर पहले भी उठ चुके है कई सवाल।

स्मार्ट मीटर मामले में EESL व UPPCL के खिलाफ आयोग में शिकायत
  • स्मार्ट मीटर डिस्कनेक्शन मामले में उ.प्र. राज्य विद्युत उपभोक्ता परिषद ने विद्युत नियामक आयोग में जनहित प्रत्यावेदन दाखिल कर दिया है।
  • आयोग को बताया है कि केंद्रीय विद्युत प्राधिकरण के प्राविधानों के तहत जारी एडवांस मीटरिंग इंफ्रास्ट्रक्चर नियमावली का राज्य में खुला उल्लंघन हुआ है।
  • ईईएसएल, यूपी पावर कारपोरेशन, एलएंडटी और मीटर निर्माती कंपनी के खिलाफ कठोर कार्रवाई किए जाने की मांग की है।
  • परिषद ने नियामक आयोग को प्रत्यावेदन के माध्यम से बताया है कि एडवांस मीरिंग इंफ्रास्ट्रक्चर नियमावली के तहत दिए गए ।
  • प्राविधानों का ईईएसएल और पावर कारपोरेशन ने पालन नहीं किया।
  • स्मार्ट मीटर के लिए ईईएसएल व यूपीपीसीएल के बीच जो करार हुए थे।
  • उसका पालन भी नहीं किया गया, जिसकी वजह से उपभोक्ताओं को यह मुसीबत झेलनी पड़ी।
  • ईईएसएल एमडी ने खुद माना है कि 1594 स्मार्ट मीटर कमांड देने के बाद भी चालू नहीं हुए।
  • जिसके बाद 180 टीमें लगाकर उन्हें चालू कराया गया, कुछ को खंभे से सीधे जोड़ना पड़ा।
  • प्रत्येक स्मार्ट मीटर पर जीएसटी सहित 108 रुपया हर महीने ईईएसएल चार्ज करता है।
  • इसके बाद भी उपभोक्ता परेशान हों, यह न्यायोचित नहीं है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button