मऊ: कमीशन के चक्कर मे मजबूती का मिशन कब तक होगा फेल

मऊ जनपद के घोसी ब्लॉक क्षेत्र के गौरीडीह गाँव के पूर्व प्राथमिक विद्यालय में शौचालय के टैंक पर लगा ढंकन पर एक 5 वर्षीय बच्चे के खेलने के दौरान शौचालय के ढक्कन टूट गया और बच्चा गडढे में जा गिरा, बच्चे के गिरने के बाद शौचालय के अनियमिता की पोल खुली, तो अधिकारीयों के होश उड़ गए, कायाकल्प के नाम पर कब तक होगी लुटाई ।

शिक्षा क्षेत्र घोसी के अंतर्गत शनिवार को गौरी डीह गांव में स्थित उच्च प्राथमिक विद्यालय के शौचालय के गड्ढे में खेलते समय अध्यापिका का 5 साल का बच्चा गिर कर गम्भीर रूप से घायल हो गया।

पांच साल का मासूम पुत्र आदित्य शौचालय के ढक्कन पर खेल रहा था

गंभीर रूप से घायल बच्चे को BHU के डॉक्टरों ने दिल्ली रेफर कर दिया। प्राथमिक विद्यालय में सेवारत अध्यापिका अंजली यादव का पांच साल का मासूम पुत्र आदित्य शौचालय के ढक्कन पर खेल रहा था।

अचानक ढक्कन टूट गया जिससे बच्चा शौचालय के गड्ढे में गिरकर घायल हो गया। गांव के लोगों का कहना है कि शौचालय तो बनाया गया लेकिन कमीशन व घूसखोरी के कारण ढक्कन में एक भी सरिया नहीं डाला गया था। जिससे ढक्कन कमजोर होने के कारण टूट गया और मासूम बच्चा गिर कर घायल हो गया। घायल बच्चे का इलाज दिल्ली में चल रहा है।

कई बार लिखित शिकायत पत्र दिया गया लेकिन…

प्राथमिक विद्यालय गौरीडीह में कायाकल्प योजना में कराए गए निर्माण कार्य की अनियमितता इस तरह की है कि एक बच्चा गम्भीर रूप से घायल हो गया और वह जिंदगी और मौत से संघर्ष कर रहा है वही ग्रामीणों का कहना है कि इस अनियमिता / घूसखोरी / भ्रष्टाचार के संबंध में कई बार लिखित शिकायत पत्र दिया गया लेकिन अभी तक कोई करवाई नहीं हुआ है।

इस भ्रष्टाचार के भेट चढी शौचालय और घटना का इंतजार कर रहे अधिकारियों की कब खुलेंगी आँखे / कब जागेंगे , आखिर कब तक खेलते रहेगे ऐसे मासूम बच्चों के जिंदगी के साथ खेल।

रिपोर्ट- उमाकांत त्रिपाठी

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button