उत्तर प्रदेश के इस जिले में फिर से लॉकडाउन?, ये है वजह

उत्तर प्रदेश के मेरठ में नये स्ट्रेन के मरीज मिलने से हड़कंप मच गया है। बलबंत एन्कलेव में 12 कोरोना मरीज मिले है। ब्रिटेन से  इसी कालोनी में परिवार आया था।

उत्तर प्रदेश के मेरठ में नये स्ट्रेन के मरीज मिलने से हड़कंप मच गया है। बलबंत एन्कलेव में 12 कोरोना मरीज मिले है। ब्रिटेन से  इसी कालोनी में परिवार आया था। ब्रिटेन परिवार के दो रिश्तेदारों में नया स्ट्रेन पाया गया है। बलबंत एन्कलेव को एसडीएम ने सील किया है। संतबिहार कालोनी में पहले से सील लगी है।

बच्ची के माता-पिता में कोरोना का नया वेरिेएंट पाया गया

संक्रमितों के परिजन प्रतिष्ठान खोल रहे थे। स्वास्थ्य विभाग की टीम ने घूमने से रोका। भारत में भी लगातार कोरोना के नए स्ट्रेन के मामले सामने आ रहे हैं। यूपी के मेरठ में कोरोना के नए स्ट्रेन के दो और केस मिलने के बाद दहशत का माहौल है। लंदन से लौटी 2 साल की बच्ची के माता-पिता में कोरोना का नया वेरिेएंट पाया गया है।

ये भी पढ़ें – रोहित शर्मा और टीम इंडिया के खिलाड़ियों ने खाया बीफ? वायरल हुआ बिल

बच्ची के फूफा और उनके बेटे में भी कोरोना का नया स्ट्रेन मिला है। मेरठ में एक दिन में इस तरह के चार केस मिलने के बाद हड़कंप मचा हुआ है। इसके साथ ही नए स्ट्रेन पाए जाने के अब कुल 5 मामले हो गए हैं।

कोरोना के नये स्ट्रेन के लक्षण हैं

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, ब्रिटेन से लौटे करीब 565 लोगों के फोन बंद मिल रहे है। आपको बता दें कि ब्रिटेन से शुरू हुआ कोरोना वायरस का नया स्ट्रेन अब भारत के कई राज्यों में फैलता जा रहा है। देश में अबतक दो दर्जन के करीब ऐसे मामले सामने आए हैं। जिनमें कोरोना के नये स्ट्रेन के लक्षण हैं।

कोरोना वायरस के न्यू स्ट्रेन की एंट्री अब यूपी में हो गयी है।  यहां अबतक ऐसे 10 मामले सामने आ चुके हैं, जिसके बाद प्रशासन अलर्ट मोड में आ गयी है।  डीएम ने बताया कि मेरठ में नया स्ट्रेन मिलने के बाद शासन स्तर से मॉनिटरिंग बढ़ा दी गई है।

पांच महीने पहले जैसा नजारा लॉकडाउन के वक्त था वैसा ही यहां फिर से दिखना शुरू हो गया है। कोरोना पॉजिटिव मरीजों के घरों के आसपास कंटेनमेंट एरिया में अपर नगर मैजिस्ट्रेट और सीओ ब्रह्मपुरी ने डॉक्टरों की टीम के साथ जाकर मुनादी कराई।

किसी भी व्यक्ति को यहां घर से बाहर निकलने की इजाजत नहीं

उन्होंने क्षेत्र के लोगों से कोरोना और नए स्ट्रेन को लेकर 11 जनवरी तक घरों में रहने के लिए कहा। 14 दिनों के लिए इलाके को सील कर दिया गया है। किसी भी व्यक्ति को यहां घर से बाहर निकलने की इजाजत नहीं है।

प्रशासन की तरफ से क्षेत्र के लोगों को बताया जा रहा है कि घरों में रहने के दौरान आवश्यक वस्तुओं की सप्लाई कराई जाएगी। सीएमओ डॉ. अखिलेश मोहन का कहना है कि इन इलाकों को लेकर पूरी सावधानी बरती जा रही है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button