कौशांबी: SO ने फरियादी से कहा- कप्तान अगर निगाह टेढ़ी कर लेगा मैं तुमको गोली मार दूंगा, ऑडियो वायरल

Kaushambi SO audio viral:- कौशांबी. यूपी के कौशांबी जिले में पश्चिम शरीरा थाना प्रभारी राजेश सिंह का एक कथित ऑडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है।

इस वायरल ऑडियो में साफ सुना जा सकता है रंगबाज़ थानेदार फरियादी से अभद्रतापूर्ण बात कर उसे गोली मार देने की धमकी दे रहा है।

Kaushambi SO audio viral

  • रंगबाज़ थानेदार का यह कोई पहला मामला नही है, विवादों से उनका पुराना नाता रहा है।
  • सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे इस कथित ऑडियो की पड़ताल की गई।
  • पड़ताल में खुलासा हुआ कि घासीपुर गांव के रहने वाले पिंटू तिवारी से परिवार वालो से झगड़ा हुआ था।

  • घटना की सूचना पिंटू तिवारी ने जरिये फोन एसओ पश्चिम शरीरा को दिया था।
  • जिस पर रंगबाज़ थानेदार ने फरियादी से पूंछा मारपीट में कोई मरा की नही,
  • इस पर पीड़ित ने कहा कि कोई मरा तो नही है।

बस यही कहना उसका गुनाह हो गया

  • फिर थानेदार ने कहा कि झगड़ा खत्म होने के बाद मैं आऊंगा।
  • पीड़ित फरियाद ने जवाब दिया कि अगर आप नही आओगे तो
  • मैं पुलिस कप्तान को फोन कर बता दूंगा।
  • बस यही कहना उसका गुनाह हो गया।


हमारा कप्तान इतना सस्ता नही है

  • फरियादी पिंटू तिवारी की यह बात एसओ को बहुत नागवार लगी।
  • पिंटू तिवारी के विपक्षी की तहरीर पर पुलिस फटाफट एफआईआर दर्ज करना शुरू कर दिया।
  • दो अलग-अलग मामला दर्ज करने के बाद एसओ साहब ने घर पर दबिश दी।
  • दबिश डालकर जमकर उत्पात मचाया और परिवार के लोगो को भद्दी-भद्दी गालियां दी।
  • पिंटू तिवारी को हुई तो उसने एसओ राजेश सिंह को फोन कर अपनी बात रखनी चाही।
  • फिर क्या इस खूंखार तिवारी का नाम सुनते ही एसओ साहब का पारा सातवें आसमान पर पहुंच गया।


एसओ का यह ऑडियो तेजी से वायरल

  • एसओ साहब ने कहा कि मेरी शिकायत कप्तान से करने की धमकी दे रहे थे। कप्तान इतना सस्ता नही है।
  • पुलिस कप्तान अगर नजर टेढ़ी कर लेगा तो मैं तुमको गोली मार दूंगा। 
  • एसओ का यह ऑडियो तेजी से वायरल हो रहा है।

  • पुलिस महकमे में थानेदार का कारनामा जगजाहिर है और इसका विवादों से भी काफी गहरा नाता रहा है।
  • बहुचर्चित करेली मदरसा कांड का सह-अभियुक्त रहने के बाद भी इसकी तूती बोलती थी।
  • अतीक अहमत के गैंग से जुड़ने के बाद यह तीन सालों तक फरारी काटा सरेंडर होकर सलाखों के पीछे था।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button