आजमगढ़: सैकड़ों लोगों को मृतक दिखाकर वोटर लिस्ट से कर दिया गायब, ग्रामीणों ने कहा साहेब.. मै जिंदा हूँ

आजमगढ़ जिले के एक गांव के 409 लोगो को मृतक व विवाहिता दिखाकर वोटर लिस्ट से नाम कटवा दिया गया, ये सब खेल सिर्फ आगामी होने वाले पंचायत चुनाव को लेकर किया गया।

आजमगढ़ जिले के एक गांव के 409 लोगो को मृतक व विवाहिता दिखाकर वोटर लिस्ट से नाम कटवा दिया गया। ये सब खेल सिर्फ आगामी होने वाले पंचायत चुनाव को लेकर किया गया। ग्रामीणो का आरोप है कि निवर्तमान ग्राम प्रधान व बीएलओ की मिलीभगत से यह सब खेल हुआ।

फूलपुर तहसील क्षेत्र के पूराराम जी गांव के ग्रामीण है

अब इन ग्रामीणो को देखिए, हाथो में साहब मैं जीवित हूं, सरकार मैं जीवित हूं, लिखी तख्तिंया लेकर प्रदर्शन कर रहे है। ये सभी आजमगढ़ जिले के फूलपुर तहसील क्षेत्र के पूराराम जी गांव के ग्रामीण है।

एसडीएम कार्यालय का चक्कर लगाने के साथ ही तहसील पर प्रदर्शन किये

ग्रामीणो का आरोप है कि ग्राम प्रधान व बीएलओ की मिलीभगत से गांव के 409 लोगो का नाम वोटर लिस्ट से मृतक व विवाहित दिखाकर काट दिया गया। जानकारी होने पर गांव के जागरूक लोग फूलपुर एसडीएम कार्यालय का चक्कर लगाने के साथ ही तहसील पर प्रदर्शन किये।

ये भी पढ़ें – मेरठ: खून के रिश्ते हुए शर्मसार, कलयुगी बेटे ने अपने पिता के साथ कर डाला ये ‘खौफनाक काम’

मामला आगे बढ़ता देख गांव के बीएलओ रामबदन बिंद ने ग्राम प्रधान के खिलाफ शिकायती प्रार्थना पत्र एसडीएम फूलपुर को सौंप आरोप लगाया कि गांव के प्रधान द्वारा डरा धमकाकर वोटर लिस्ट से 409 लोगो का नाम कटवाया गया।

गांव पहुंचे और जांय की प्रक्रिया शुरू हुई

जिसकी जांच कर कार्रवाई की जाय। बीएलओ और ग्रामीणो द्वारा दिए गये शिकायती प्रार्थना पत्र के आधार पर एसडीएम फूलपुर रावेन्द्र सिंह लाव लश्कर लेकर गांव पहुंचे और जांय की प्रक्रिया शुरू हुई। इस दौरान गांव में काफी गहमा-गहमी का माहौल देखने को मिला। एसडीएम ने इस मामले मंे रटा-रटाया जवाब देकर पल्ला झाड़ते नजर आये। कहा कि जांच की जा रही है जो भी तथ्य सामने निकलकर आयेगा दोषियो के खिलाफ कार्रवाई की जायेगी।

तो वही प्रदर्शन कर रहे ग्रामीणो ने मांग किया है कि जितने भी नाम वोटर लिस्ट से काटे गये सब गलत है, सभी को एक बार फिर से वोटर लिस्ट में नाम जोड़ा जाय और जो लोग भी इस तरह का कृत्य किये है उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाय।

फिलहाल जो भी हो पंचायत चुनाव आते ही जोड़-तोड़, के साथ ही कई तरह के हथकण्डे चुनाव जीतने के लिए अपनाये जाने लगे है। अब देखना होगा कि पूराराम जी गांव के 409 लोगो को प्रशासन वोटर लिस्ट में कब तक जीवित करता है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button