श्रीपद नाइक के स्वास्थ्य में सुधार

केन्द्रीय रक्षा राज्यमंत्री एवं आयुष मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्रीपद नाइक के स्वास्थ्य में सुधार हो रहा है। गोवा मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल (जीएमसी) के डॉक्टर ने यह जानकारी दी।

केन्द्रीय रक्षा राज्यमंत्री एवं आयुष मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्रीपद नाइक (Shripad Naik) के स्वास्थ्य में सुधार हो रहा है। गोवा मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल (जीएमसी) के डॉक्टर ने यह जानकारी दी।

जीएमसी के डॉक्टरों के साथ इस पर चर्चा की

जीएमसी की ओर से जारी मेडिकल बुलेटिन के मुताबिक श्री नाइक (Shripad Naik) का एम्स के डॉक्टरों के देखरेख में उपचार किया जा रहा है। एम्स के डॉक्टरों ने सभी महत्वपूर्ण मापदंडों की जांच की और जीएमसी के डॉक्टरों के साथ इस पर चर्चा की। वे श्री नाइक को दिए गए उपचार से संतुष्ट नजर आए और सुबह उन्हें वहां से ले जाने की योजना बनाई जा रही है।

ये भी पढ़ें – भाजपा नेता ने 36 बच्चों को बनाया हवस का शिकार, कोल्ड ड्रिंक में नशीला पदार्थ मिलाकर ….

एम्स की टीम ने 13 जनवरी को जीएमसी को दौरा किया। श्री नाइक (Shripad Naik)  को 50 फीसदी के एफआईओ2 के साथ उच्च प्रवाह वाली नाक की नलिका (एचएफएनसी) लगाई गयी है। वह एचएफएनसी पर 98 फीसदी से संतुष्ट हैं। उनके सभी घाव ठीक हो रहे है और पट्टियां लगातार बदली जा रही है।

जीएमसी के डॉक्टरों से उनके स्वास्थ्य के बारे में चर्चा की

मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने श्री नाइक (Shripad Naik)  से मुलाकात की और उनका कुशलक्षेम लिया तथा एम्स एवं जीएमसी के डॉक्टरों से उनके स्वास्थ्य के बारे में चर्चा की।

ये भी पढ़ें – घर में अकेली थी मासूम, रिश्तेदार ने फायदा उठाकर कर डाला घिनौना काम और जब इतने से भी नहीं भरा जी तो

जीएमसी के डीन प्रोफेसर एस एम बांडेकर ने कहा, “एम्स की टीम जीएमसी डॉक्टरों के साथ श्री नाइक (Shripad Naik)  के हालत की लगातार निगरानी कर रही है और कहा है कि इस समय मंत्री को नयी दिल्ली ले जाये जाने की आवश्यकता नहीं है और उन्हें जीएमसी में सर्वश्रेष्ठ उपचार दिया जा रहा है और उनकी पूरी तरह से देखभाल की जा रही है।”

हादसे में केन्द्रीय मंत्री घायल हो गए थे

उल्लेखनीय है कि 11 जनवरी को कर्नाटक में उत्तर कन्नड के अंकोला के पास उस समय श्री नाइक की कार दुर्घटनाग्रस्त हो गयी थी जब वह गोवा लौट रहे थे। हादसे में केन्द्रीय मंत्री घायल हो गए थे और उनकी पत्नी विजया नाइक तथा उनके निजी सहायक की मौत हो गयी। उन्हें 12 जनवरी को जीएमसी में भर्ती कराया गया था।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button