कौशांबी: सिलाई की क्लास से वापस आ रही किशोरी से सामूहिक दुष्कर्म, एक गिरफ्तार-अन्य फरार

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के कौशांबी (Kaushambi) जिले में किशोरी से सामूहिक दुष्कर्म (Gangrape) की जघन्य वारदात सामने आई है। घटना...

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के कौशांबी (Kaushambi) जिले में किशोरी से सामूहिक दुष्कर्म (Gangrape) की जघन्य वारदात सामने आई है। घटना शुक्रवार की है, किशोरी की तहरीर पर पुलिस ने गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज कर एक आरोपी को गिरफ्तार तो कर लिया है। हालांकि, सराय अकिल थाना क्षेत्र में घटित हुई इस वारदात में पुलिस के आलाअधिकारी मीडिया को जवाब देने से बच रहे हैं। वही, मीडिया को भी पीड़ित परिवार से भी मिलने की अनुमति नहीं दी गयी है।

 

प्रथम सूचना रिपोर्ट के अनुसार, करारी थाना क्षेत्र की रहने वाली किशोरी पड़ोसी गांव सिलाई की क्लास के लिए गयी हुई थी। क्लास के बाद किशोरी ने फोन द्वारा अपने प्रेमी को बुलाया और उसके बाइक से सरायअकिल थाना इलाके के एक सुनसान जगह पर जा कर बातचीत कर रही थी। बातचीत के दौरान किशोरी के मना करने के बावजूद प्रेमी शारीरिक संबंध बना रहा था। तभी अचानक तीन युवक आ गए। तीनों युवकों ने किशोरी व प्रेमी को पीटा और उसका मोबाइल छीन लिया। इसके बाद दो लोगों ने किशोरी के साथ गैंगरेप (Gangrape) किया।

ये भी पढ़ें- बड़ी खबर: कार में लाखों की कोकीन ले जा रही थी BJP की युवा नेता, पुलिस ने किया गिरफ्तार

गैंगरेप (Gangrape) की वारदात को अंजाम देकर जान से मारने की धमकी देते हुए तीनों युवक मौके से फरार हो गए। युवकों के चंगुल से छूटी किशोरी ने घर पहुंचकर आप बीती बताई, तो परिजन के पैरों तले जमीन खिसक गई। किशोरी के साथ सरायअकिल थाना पहुंचे परिजनों ने पुलिस से लिखित शिकायत दर्ज कराई हैं।

ये भी पढ़ें- मुजफ्फरनगर में आज किसान महापंचायत को संबोधित कांग्रेस महासचिव करेंगी प्रियंका गांधी

शिकायत मिलने पर पुलिस ने गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज कर एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। बाकी अन्य आरोपियों की तलाश में पुलिस जगह-जगह छापेमारी कर रही हैं। हालांकि, रेप की बढ़ती वारदात को देखते हुए पुलिस के आला अधिकारी मीडिया से बचते रहे। वहीं, पीड़िता व पीड़िता का परिवार लोक लाज के चलते कैमरे के सामने नहीं आ रहे हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button