हजारों सपने लेकर छोड़ा था पीहर, लेकिन शादी के तीसरे दिन से ही हुआ कुछ ऐसा कि टूट गए सपने और ….

शादी के तीसरे दिन से ही विवाहिता को दहेज की मांग करने लगे और मारने पीटने लगे थे लेकिन शादी के कुछ दिन बाद विवाहिता की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई थी।

उत्तर प्रदेश के अमरोहा जनपद के थाना अमरोहा देहात इलाके के गांव काकर सराय में आज डेढ़ महीने के बाद डी एम् के आदेश पर मृतक विवाहिता के शव को कब्र के बाहर निकाला गया है। 

मृतक विवाहिता के पिता मुशाहिद खा ने अमरोहा जिला अधिकारी उमेश मिश्रा से प्रार्थना पत्र देकर मांग की थी उनका कहना था कि मेरी बेटी की दहेज के लालचीयो ने हत्या की, है और वह मृतक विवाहिता के संभल में हुए पोस्टमार्टम से संतुष्ट नहीं है , जिसे बाद डी एम् के आदेश पर आअ ये कार्यवाही की गई है।

विवाहिता की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई थी

आपको बता दें कि यह पूरा मामला अमरोहा के थाना देहात इलाके के गांव काकर सराय का है जहां विवाहिता नाजुक की शादी संभल के बहजोई क्षेत्र में की गई थी परिजनों का आरोप है कि शादी के तीसरे दिन से ही विवाहिता को दहेज की मांग करने लगे और मारने पीटने लगे थे लेकिन शादी के कुछ दिन बाद विवाहिता की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई थी।

ये भी पढ़ें – बिना जुर्म किये काटी पांच साल की सजा, पढ़िए पति-पत्नी और परिवार की बेहद भावुक कहानी

परिजनों की तहरीर पर बहजोई थाने में चार लोगों के खिलाफ मुकदमा भी दर्ज किया था लेकिन संभल में हुए विवाहिता के पोस्टमार्टम में हार्ट अटैक से मौत का कारण दर्शाया गया था जिससे परिजन नाराज थे परिजनों का कहना है कि मृतक विवाहिता के सर में किसी धारदार हथियार से वार किया गया है और शरीर पर काफी गंभीर चोट के निशान हैं।

पोस्टमार्टम कराने के लिए शव कब्र से बाहर निकाला गया है

जिसकी शिकायत मृतक विवाहिता के पिता मुशाहिद ने अमरोहा जिले के अधिकारी से की थी आज डेड़ महीने बाद पुलिस की मौजूदगी में विवाहिता नाजुक जहाँ के शव का दोबारा पोस्टमार्टम कराने के लिए शव कब्र से बाहर निकाला गया है अब पोस्ट मार्टम में पता लगेगा की विवाहिता नाजुक जहाँ की मौत का कारण किया था

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button