फिरोजाबाद: प्रदूषित पानी पीने को मजबूर है गांव के बाशिंदे

फिरोजाबाद गांव जौनपाई में ग्रामीण दूषित पानी पीने को मजबूर, हो रही है बीमारियां ग्रामीणों का आरोप पानी पीने से 6 महीने पहले हो गई थी एक बच्ची की मौत, समर सेबल में से आ रहा है हरे रंग का पानी।

फिरोजाबाद गांव जौनपाई में ग्रामीण दूषित पानी पीने को मजबूर, हो रही है बीमारियां ग्रामीणों का आरोप पानी पीने से 6 महीने पहले हो गई थी एक बच्ची की मौत, समर सेबल में से आ रहा है हरे रंग का पानी।

फ़िरोज़ाबाद के राजा का ताल इलाके के पास ज़ोनपाई गांव में समरसेबल में से निकल रहे इस हरे रंग के पानी को देखकर आप भी सोचने को मजबूर हो जाएंगे कि यह किस तरह का पानी है,और इससे लोग कैसे पी रहे होंगे।

दरअसल यह पूरा मामला फिरोजाबाद के गांव ज़ोनपाई और उसके आस पास इलाके का है,जहां बच्चे से लेकर बुजुर्ग तक इस हरे रंग के पानी को पीने के लिए मजबूर हैं,क्योंकि जिस घर में भी अगर समरसेबल चलाया जाता है।

उसमें से निकलता है यह हरे कलर का पानी,और इससे ही लोग बर्तनों में भरकर अपने घर ले जाते हैं, कुछ लोग सक्षम है परिवार से तो वह खरीद कर पानी भी पी रहे हैं, क्योंकि यह इलाका नगर निगम की सीमा में नहीं है इसलिए यहां के बाशिंदे जमीन के नीचे समरसेबल लगाकर पानी का दोहन करते हैं ।

ऐसा माना जा रहा है कि जमीन के नीचे भी प्रदूषित पानी हो गया है। क्योंकि आसपास के कारखानों से केमिकल युक्त पानी निकल कर जमीन में समा जाता है और वह समरसेबल के माध्यम से उनके घरों में पहुंच जाता है। जब हमने इस बारे में ग्रामीणों से बात की तो उनका कहना था कि 1 वर्ष से अधिक हो गया इसी तरह का पानी आ रहा है,क्योंकि यहां आसपास कई कांच की फैक्ट्रियां हैं उसकी वजह से भी केमिकल युक्त पानी आ रहा होगा।

ये भी पढ़ें – रोहित शर्मा और टीम इंडिया के खिलाड़ियों ने खाया बीफ? वायरल हुआ बिल

फिलहाल ग्रामीणों की शिकायत पर जल निगम के एक्सईएन ने पानी का सैंपल तो लेकर जांच के लिए लखनऊ भिजवा दिया है, लेकिन अभी तक इस दूषित पानी की परीक्षण रिपोर्ट ही नही आई है । लेकिन उनका यह कहना है कि यह सब वहां चल रही फैक्ट्रियों की वजह से हो रहा है क्योंकि जो फैक्ट्री से गांव दूर हैं वहां पानी बिल्कुल शुद्ध आ रहा है।

वही इस समस्या को लेकर भारतीय जनता पार्टी के महानगर अध्यक्ष ने भी वहां ग्रामीणों से बात की है और उनकी समस्या का जल्द से जल्द समाधान कराने का आश्वासन दिया है. उनका तो यह भी कहना है कि उन्होंने अपने भारतीय जनता पार्टी के संगठन और उच्च अधिकारियों को अवगत करा दिया है।  यह इलाका नगर निगम सीमा क्षेत्र में नहीं आता है।

इसलिए यहां पर नगर निगम द्वारा पानी की पाइप लाइन और टंकी नहीं लगाई गई हैं। ग्रामीणों की मानें तो 6 महीने पूर्व भी एक बच्ची की मौत हो चुकी है लेकिन न तो उस बच्ची का ग्रामीणों ने पोस्टमार्टम कराया और यह भी स्पष्ट नहीं हो सका कि उस बच्ची की दूषित पानी पीने से ही मौत हुई है लेकिन ग्रामीण तो दावा कर ही रहे हैं।

स्थानीय लोगों का ये है कहना –

रामबेटी वृद्ध महिला ने बताया कि हरे रंग का पानी आ रहा है उसी को पी रहे हैं, और वैसे पानी खरीद कर भी लाना पड़ रहा है पर इस पानी से बच्चे हो बड़े बीमारी पड़ रहे हैं।

नेत्रपाल , स्थानीय निवासी, ग्रामीण ने बताया कि यहां समरसेबल में हरे रंग का पानी आ रहा है,इसको पीकर 6 महीने पहले एक बच्ची की भी मौत हो गई थी,और यहां लोग बीमार पड़ रहे हैं कारण यह कि आप देख सकते हैं कि गांव के पीछे फैक्ट्रियां हैं जहां से दूषित पानी आता है, वही पानी समरसेबल में आ रहा है कई बार शिकायत की है कोई सुनवाई नहीं हुई है सैंपल भरकर ले रहे हैं।

सत्य प्रकाश, ग्रामीण ने बताया कि यहां बहुत बड़ी समस्या है,हरे रंग का पानी आ रहा है समर सेविल में से उसे ही सब लोग पी रहे हैं, पीछे फैक्ट्री हैं इसमें केमिकल युक्त पानी आ रहा है जो पानी फैक्टरी में से गड्ढे में जाता है लग रहा है वहीं पानी समरसेबल में से निकल रहा है,बहुत बड़ी समस्या है इस पानी को ही पीना पड़ रहा है।

ओमवीर दीक्षित, अधिशाषी अभियंता, जल निगम फिरोजाबाद ने बताया कि राजा के ताल के समीप एक गांव है जॉनपाई वहां दूषित पानी आ रहा है जिसका सैंपल लेकर लखनऊ भिजवा दिया गया है,लेकिन इसमें यह देखने को मिला है कि आसपास जो फैक्ट्रियां हैं उनकी वजह से ही दूषित पानी आ रहा है, क्योंकि फैक्ट्रियों से जो दूर गांव है वहां पानी बिल्कुल सही आ रहा है,हमने फैक्ट्री ओनर को भी बोला है और इसमें सैंपल भेज दिया है इसकी जांच की जा रही है

राकेश संखवार, महानगर अध्यक्ष भारतीय जनता पार्टी फिरोजाबाद ने बताया कि हमारे संज्ञान में आया है और हमने देखा भी वहां जाकर कि वहां हरे रंग का पानी आ रहा है, केमिकल युक्त इस बारे में हमने जल निगम के एक्सईएन से भी बात की उसका सैंपल भरवा दिया गया है,और हमने अपने बड़े नेताओं को बता दिया है और और हमने लखनऊ भी इस बात की जानकारी दे दी है।

रिपोर्ट- बृजेश सिंह राठौर फिरोजाबाद

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button