पिता है जेल में बंद और माँ ने छोड़ दिया था साथ, तो मिला दस साल के अंकित को एसएसपी अभिषेक यादव का सहारा और फिर ….

मुजफ्फरनगर हाडकपा देने वाली इस दिसंबर की सर्दी में जहां हम लोग गर्म कपड़े और बंद दीवारों के बीच रहते हैं वही मुजफ्फरनगर में इन दिनों भरी सर्दी के बीच फुटपाथ पर एक मासूम बच्चा अपने आप और अपने साथी डॉग को एक चादर में लपेटे हुए हैं।

मुजफ्फरनगर हाडकपा देने वाली इस दिसंबर की सर्दी में जहां हम लोग गर्म कपड़े और बंद दीवारों के बीच रहते हैं वही मुजफ्फरनगर में इन दिनों भरी सर्दी के बीच फुटपाथ पर एक मासूम बच्चा अपने आप और अपने साथी डॉग को एक चादर में लपेटे हुए हैं। फुटपाथ पर बच्चे और कुत्ते के साथ यह फोटो पिछले दो हफ्तों से सोशल मीडिया पर जब वायरल हुआ, तो आम जनता का ही नहीं बल्कि पुलिस प्रशासन का भी दिल पसीज गया और मुजफ्फरनगर पुलिस ने बच्चे को ढूंढ निकाला।

कभी चाय की दुकान पर कप प्लेट साफ करता है

8 वर्षीय इस बच्चे का नाम अंकित है जिसके पिता आजकल जिला कारागार में बंद है और मां का कोई अता पता नहीं है। अंकित रोजमर्रा की तरह सुबह उठता है कभी चाय की दुकान पर कप प्लेट साफ करता है तो कभी सर्द रात में गुब्बारे और खिलौने भेज कर अपना और अपने साथी कुत्ते डैनी का पेट भरता है।

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अभिषेक यादव के निर्देश पर इस बच्चे की तलाश की गई

रात होने पर यह बच्चा फुटपाथ को अपना बिस्तर बना एक चादर में सर्दी से बचने का प्रयास करता है उसी चादर में अंकित का साथी डैनी भी अंकित के साथ सो जाता है। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अभिषेक यादव के निर्देश पर इस बच्चे की तलाश की गई और शहर कोतवाली पुलिस ने बच्चे को सर्दी से बचने के लिए गर्म कपड़े और जूते देकर बच्चे की परवरिश करने का बीड़ा उठाया है, फिलहाल बच्चे का एक स्कूल में एडमिशन कराया गया है साथ ही पुलिस इस बच्चे की मां की भी तलाश कर रही है।

 

अंकित का न घर है और न ही कोई ठौर ठिकाना

हम आपको एक ऐसे मासूम बच्चे की कहानी बताने जा रहे है। ये कहानी है अंकित की। जिसका न घर है और न ही कोई ठौर ठिकाना। इस कंप कंपा देने वाली सर्दी में सिर्फ एक कंबल है और सड़क का एक कोना। साथ के नाम पर बस एक कुत्ता है जो उसका हर पल साथ देता है। बचपन में उसे माँ का अंचल नसीब नहीं हुआ और न ही पिता की उंगलिया पकड़ दुनिया वाली किस्मत। उसके हाथ तो सिर्फ बदनसीबी लगी। अंकित का पिता जेल में बंद है। और माँ उसे छोड़ कर जा चुकी है। रहने के लिए सड़क है।

ये भी पढ़ें – शादी के मंडप पर फेरों के दौरान दुल्हन ने कर दी ऐसी हरकत कि पूरी दुनिया में वीडियो हो गया वायरल

 ये भी पढ़ें – Shocking! दोस्त के साथ घिनौना काम करने के लिए अपनी पत्नी पर दबाव बना रहा था पति, फिर…

अंकित अपना और अपने कुत्ते का पेट भरता था

लगभग दस वर्षीय अंकित पिछले काफी समय से थाना नगर कोतवाली क्षेत्र के शिव चौक के आसपास घूमता दिखाई देता था। शाम के वक्त अंकित अपने गुजारे के लिए एक चाय वाले के यहां काम करता था और दिन में लोहा बीनने का काम करता था। लोहे को बेचकर अंकित अपना और अपने कुत्ते का पेट भरता था। रात को इस कड़ाके की सर्दी में शिव चौक स्थित मार्केट में किसी भी दुकान के सामने अपने दोस्त कुत्ते के साथ सो जाता था। अंकित कुत्ते को प्यार से डैनी कहता है।

जिले में इन दिनों कड़ाके की सर्दी में एक बेबस बच्चे का कुत्ते के साथ सोते हुए फोटो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है। फोटो वायरल होने के बाद शासन भी अपनी कुम्भकर्णी नींद से जागकर हरकत में आ गया। आलाधिकारियों के निर्देशन पर पुलिस ने बेबस बच्चे को खोज निकाला।

 एसएसपी अभिषेक यादव  की पहल से अंकित को मिला सहारा

फोटो वायरल होने के बाद एसएसपी अभिषेक यादव ने बच्चे को ढूंढने के लिए पुलिस टीम लगाई। पुलिस की टीम ने बच्चे को शहर से बरामद कर लिया। अब बच्चा चाइल्ड एंड वूमेन वेलफेयर डिपार्टमेंट की देख रेख में है। यहां बच्चे के रहने के साथ साथ जिला प्रशासन अच्छी पढ़ाई के बंदोबस्त भी करा रहा है।

 

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button