बड़ी खबर: किसान आंदोलन को लेकर 100 से अधिक सांसदों ने प्रधानमंत्री को लिखा पत्र, की ये मांग…

केंद्र सरकार (Central Government) के नए कृषि कानूनों के खिलाफ दिल्ली (Delhi) की सीमाओं का डटे किसानों (Farmers) के आंदोलन लगातार जारी है।

केंद्र सरकार (Central Government) के नए कृषि कानूनों के खिलाफ दिल्ली (Delhi) की सीमाओं का डटे किसानों (Farmers) के आंदोलन लगातार जारी है। ठंड के बावजूद आज (रविवार) 46वें दिन भी किसान कृषि कानूनों को रद्द करने की अपनी मांगों को लेकर अड़े हैं। सरकार के साथ किसानों की कई बैठकों के बावजूद अब तक इस आंदोलन का समाधान नहीं निकला है।

प्रधानमंत्री को 100 सांसदो ने भेजा पत्र

वहीं, अपनी मांगों पर डटे किसानों (Farmers) के आंदोलन को लेकर 100 से अधिक सांसदों ने प्रधानमंत्री को एक पत्र भेजा है, जिसमें उन्होंने किसानों के आंदोलन के मुद्दे को लेकर बड़ी मांग की है।

man
किसान आंदोलन

ये भी पढ़ें – ‘चड्डा, नड्डा, फड्डा, भड्डा सब यही हैं’ कहने वाली ममता पर नड्डा का तंज, बोले- ‘ममता जी, अब पछतावे होत क्या, जब चिड़िया चुग गई खेत

वैसे तो भारत में चल रहे किसानों (Farmers) के आंदोलन की गूंज पूरी दुनिया में है। साथ ही किसानों की आवाज ब्रिटिश संसद तक पहुंच गई है।

प्रधानमंत्री से पत्र में की ये मांग…

दरअलस, भारत में चल रहे किसानों (Farmers) के आंदोलन को लेकर ब्रिटिश लेबर पार्टी के सांसद तनमनजीत सिंह ढेसी ने पांच जनवरी को 100 से अधिक सांसदों और लॉर्डस के हस्ताक्षर वाला एक पत्र ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन को भेजा। उन्होंने पत्र में पीएम बोरिस जॉनसन से मांग की है कि वे भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के समक्ष किसानों के आंदोलन के मुद्दे को उठाएं।

farm laws
किसान आंदोलन

ये भी पढ़ें – बड़ी खबर: 8 फरवरी से बंद हो जाएगा आपका व्हाट्सएप !

उनके पत्र में यह सुनिश्चित करने की कोशिश की गयी है कि ब्रिटेन के प्रधानमंत्री अंतरराष्ट्रीय स्तर पर शांतिपूर्ण विरोध के अधिकार के महत्व को स्पष्ट करते हुए भारतीय किसानों (Farmers) के मसले पर प्रधानमंत्री मोदी से बात करें।

बयान में सांसद तनमनजीत सिंह ढेसी ने कहा…

एक बयान में सांसद तनमनजीत सिंह ढेसी ने कहा है कि ‘मैं 100 से अधिक सांसदों और लॉर्ड्स के प्रति आभारी हूं, जिन्होंने प्रधानमंत्री के नाम क्रॉस-पार्टी पत्र पर हस्ताक्षर कर भारतीय किसानों के शांतिपूर्ण विरोध प्रदर्शन के प्रति चिंता जताई है। बोरिस जॉनसन जब भारतीय प्रधानमंत्री से मिलें तो मसले को मजबूती से उठाएं, ताकि किसानों की मांगों को लेकर बने वर्तमान गतिरोध का शीघ्र समाधान हो सके।’

farmers
(फोटो सोर्स-गूगल)

ये भी पढ़ें – VIDEO VIRAL: PM मोदी के संसदीय क्षेत्र में पूर्व BJP विधायक की हुई जमकर कुटाई, जानें क्या है पूरा मामला…

‘आंदोलन से पंजाबी और सिख परेशान’

सांसद तनमनजीत सिंह ढेसी ने जो पत्र प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन को लिखा है, उसका शीर्षक है ‘भारतीय किसानों का शांतिपूर्ण विरोध और वैश्विक विरोध से संबंध।’

पत्र में ढेसी ने लिखा कि मुद्दे ने भारतीय प्रवासी समुदाय, विशेष रूप से पंजाबी और सिख पृष्ठभूमि के लोग और भारत में खेती से जुड़े लोगों को बहुत परेशान किया है। इस वैश्विक विरोध में हजारों लोग जुड़ गए हैं, इनमें पूरे ब्रिटेन के कस्बे और शहर शामिल हैं।

Farmers

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button