Farmers Protest: किसान आंदोलन तेज करने के लिए किसानों ने बनाया मास्टर प्लान!, 23 फरवरी से…

केंद्र सरकार के नए कृषि कानूनों के विरोध में देशभर के किसानों (Farmers) का करीब तीन महीने से आंदोलन जारी है। सरकार और किसानों के बीच गतिरोध जारी है।

केंद्र सरकार के नए कृषि कानूनों के विरोध में देशभर के किसानों (Farmers) का करीब तीन महीने से आंदोलन जारी है। सरकार और किसानों के बीच गतिरोध जारी है। कृषि कानूनों के खिलाफ अपने आंदोलन को और तेज करने के लिए किसानों ने रविवार को 23 से 27 फरवरी के बीच कई कार्यक्रम आयोजित करने की घोषणा की। उन्होंने यह भी कहा कि वे प्रदर्शन को लंबे समय तक चलाने के लिए जल्द ही नई रणनीति तैयार करेंगे।

संयुक्त किसान मोर्चा ने संवाददाता सम्मेलन में कहा कि उनके प्रस्तावित कार्यक्रम के तहत 23 फरवरी को पगड़ी संभाल दिवस और 24 फरवरी को दमन विरोधी दिवस मनाया जाएगा। इसके अलावा किसान मोर्चा ने कहा कि 26 फरवरी को ‘युवा किसान दिवस’ और 27 फरवरी को ‘मजदूर किसान एकता दिवस’ मनाया जाएगा। साथ ही सम्मेलन में कहा गया कि इस बात पर जोर दिया जाएगा कि किसानों (Farmers) का सम्मान किया जाए और उनके खिलाफ कोई दमनकारी कार्रवाई नहीं की जाए।

ये भी पढ़ें- UP Budget LIVE: इतिहास का पहला पेपरलेस बजट पेश कर रही योगी सरकार

किसान नेता दर्शनपाल ने कहा कि चाचा अजीत सिंह और सहजानंद सरस्वती की याद में 23 फरवरी को ‘पगड़ी संभाल दिवस’ मनाया जाएगा। इस दिन किसान (Farmers) अपने क्षेत्र की पगड़ी पहनेंगे। उन्होंने कहा कि 24 फरवरी को ‘दमन विरोधी दिवस’ मनाया जाएगा, जिसमें किसान और नागरिक, किसान आंदोलन को दबाने के खिलाफ प्रदर्शन करेंगे। इस दिन तहसील और जिला मुख्यालयों के जरिए भारत के राष्ट्रपति को ज्ञापन भेजा जाएगा।

किसान नेता पाल ने कहा कि 26 फरवरी को इस आंदोलन में युवाओं के योगदान का सम्मान करते हुए, युवा किसान दिवस आयोजित किया जाएगा। इस दिन एसकेएम के सभी मंचों का संचाल युवा करेंगे। उन्होंने कहा कि 27 फरवरी को गुरु रविदास जयंती और शहीद चंद्रशेखर आजाद के शहादत दिवस के मौके पर ‘किसान मजदूर एकता दिवस’ मनाया जाएगा।

ये भी पढ़ें- पूर्व केंद्रीय मंत्री और समाजवादी पार्टी के दिग्गज नेता का हुआ निधन, लंबे समय से थे बीमार

इस दौरान स्वराज इंडिया के नेता योगेंद्र यादव ने कहा कि प्रदर्शनकारियों को गिरफ्तार करने, उन्हें हिरासत में लेने और उनके खिलाफ मामले दर्ज करके सरकार दमनकारी उपाय अपना रही है। उन्होंने कहा कि 26 जनवरी पर राष्ट्रीय राजधानी में किसानों (Farmers) की ट्रैक्टर परेड के दौरान हुई हिंसा के मामले में दिल्ली पुलिस की ओर से गिरफ्तार किए गए 122 लोगों मे से 32 को जमानत मिल चुकी है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button