बाराबंकी : लेखपाल की धमकी से किसान की मौत, घर में मचा कोहराम 

लखनऊ से सटे जनपद बाराबंकी से एक सनसनीखेज खबर सामने आ आई है जहां खेत में पराली जलाने की सूचना पर हलका लेखपाल ने किसान को कार्रवाई की धमकी दी।

बाराबंकी (उत्तर प्रदेश) राजधानी लखनऊ से सटे जनपद बाराबंकी से एक सनसनीखेज खबर सामने आ आई है जहां खेत में पराली जलाने की सूचना पर हलका लेखपाल ने किसान को कार्रवाई की धमकी दी। धमकी से सदमे में आए किसान की मौत हो गई। इस घटना के बाद घर में कोहराम मच गया। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

क्या है पूरा मामला

घटना जिले के सुबेहा थाना क्षेत्र के गांव बली गेरावा की है। यहां के निवासी किसान प्रदीप सिंह ने गुरुवार को अपने खेत की पराली जला दी थी। लोगों ने इसकी शिकायत हलका लेखपाल से कर दी। मौके पर पहुंचे लेखपाल राजेंद्र प्रसाद मैं खेत में जल रही पराली की फोटो खींची और वीडियो बना लिया। इसके बाद उसने इसकी जानकारी किसान प्रदीप सिंह को देते हुए कार्रवाई की बात कही।

पति था मानसिक रोगी, पांच सौ रूपये उधार लेकर शुरू किया काम और आज हैं करोड़ों की मालकिन

किसान प्रदीप सिंह और प्रधान सरजू शुक्रवार की सुबह लेखपाल से मिलने तहसील पहुंचे। परिजनों ने बताया कि लेखपाल ने प्रदीप सिंह को बताया कि वह कार्रवाई से बचने के लिए खेत की जुताई करा दे। उसने बताया कि पराली जलाए जाने की जानकारी उप जिलाधिकारी को है और साथ ही उसे कार्रवाई होने का डर भी दिखाया। इससे किसान प्रदीप सिंह सहम गया। कार्रवाई के नाम से सहमे प्रदीप प्रधान के साथ घर लौट आया। परिजनों के मुताबिक घर पहुंचते ही थोड़ी देर तक प्रदीप सिंह गुमसुम बैठा रहा। थोड़ी देर बाद उसने सीने में दर्द बात कही। परिजन आनन-फानन प्रदीप को बीएचएल स्थित अस्पताल ले जाने लगे लेकिन रास्ते में ही उसकी मौत हो गई।

परिजनों ने लेखपाल पर वसूली का आरोप

किसान प्रदीप की मौत के बाद घर में कोहराम मचा हुआ है। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा है। रोते बिलखते परिजन लेखपाल पर कार्रवाई के नाम पर डरा धमका कर वसूली किए जाने का आरोप लगा रहे हैं।

रिपोर्ट – दीपक सिंह

  • हमें फेसबुक पेज को अभी लाइक और फॉलों करें @theupkhabardigitalmedia 

  • ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @theupkhabar पर क्लिक करें।

  • हमारे यूट्यूब चैनल को अभी सब्सक्राइब करें https://www.youtube.com/c/THEUPKHABAR

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button