अलीगढ़ गोशाला में मृत पड़े गोवंशों को नोच रहे कुत्ते, निराश्रित गौशाला का हाल बेहाल

उत्तर प्रदेश के जनपद अलीगढ़ की तहसील खैर क्षेत्र के गांव कुंज गढ़ी पला वीरान में निराश्रित हंसराज शर्मा गौशाला में म्रत पड़े हुए आवारा गोवंशों को सड़कों पर घूमने वाले आवारा कुत्ते अपनी भूख का निवाला बना रहे हैं।

उत्तर प्रदेश के जनपद अलीगढ़ की तहसील खैर क्षेत्र के गांव कुंज गढ़ी पला वीरान में निराश्रित हंसराज शर्मा गौशाला में म्रत पड़े हुए आवारा गोवंशों को सड़कों पर घूमने वाले आवारा कुत्ते अपनी भूख का निवाला बना रहे हैं। निराश्रित गौशाला में आवारा गोवंशों को आवारा कुत्तों द्वारा अपने नुकीले दांतों से नोच नोच कर खाया जा रहा है आवारा कुत्तों द्वारा मृत पड़े आवारा गोवंश को नोच नोच कर खाने का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

इसे भी पढ़ें – फिरोजाबाद। लोक कल्याण के लिए मंगलामुखी ने की भगवान की पूजा अर्चना, गाजे बाजे से निकली गई शोभायात्रा

जानकारी के अनुसार उत्तर प्रदेश के जनपद अलीगढ़ के तहसील क्षेत्र के गांव कुंज गढ़ी पला वीरान में निराश्रित हंसराज शर्मा के नाम से चल रही गौशाला में इन दिनों आवारा गोवंश की दुर्दशा बेहद ही भयानक और दयनीय बनी हुई है। ऐसे में इस निराश्रित गौशाला के अंदर कोई आवारा पशु भूख प्यास से तड़प तड़प कर मर जाता है। तो उसको गौशाला के कर्मचारियों संचालकों द्वारा मृत गोवंश को गौशाला परिसर की जमीन के ऊपर खुले में फेंक दिया जाता है। निराश्रित गौशाला के अंदर पड़े मृत पड़े आवारा गोवंशों को गांव की सड़कों पर घूमने वाले आवारा कुत्ते मृत गोवंश को नोच नोच कर अपनी भूख का निवाला बना लेते हैं।

स्थानीय ग्रामीणों का कहना है कि निराश्रित गौशाला में मृत पड़े पशुओं को जब गौशाला संचालक से जमीन में गड्ढा खोदकर दफनाने की बात की जाती है तो गौशाला संचालक ग्रामीणों की बातों को अनदेखा कर देता है। तो वही ग्रामीणों का आरोप है कि गौशाला में मृत पड़े आवारा गोवंश को लेकर कई बार निराश्रित हंसराज शर्मा गौशाला के संचालक से इसकी कई बार शिकायत कर चुके हैं। लेकिन गौशाला संचालक के द्वारा मृत पड़े आवारा गोवंश को लेकर कोई सुनवाई नहीं की जाती है। तो वहीं ग्रामीणों का कहना है कि गौशाला में मृत पड़े पशुओं की वजह से गांव के चारों तरफ बदबू होने के चलते ग्रामीणों का रहना गांव में दुश्वार हो गया है।

गौशाला में मृत पड़े पशुओं की बदबू उस दौरान ज्यादा फैल जाती है जब हवा इधर से उधर होती है। लोगों का आरोप है कि आवारा गोवंश की बदबू की वजह से ग्रामीणों का खाना खाना भी दुश्वार हो गया है। कई बार लोग बदबू आने की वजह से खाना भी नहीं खाते हैं। निराश्रित गौशाला से उठ रही बदबू के बाद ग्रामीण परेशान होकर गांव के अंदर आने वाली बदबू के चलते एसडीएम खैर से शिकायत करने की बात कर रहे हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button