क्या आप जानते है बसपा सुप्रीमो मायावती का पूरा नाम क्या है?? देखते हैं कितने लोग होते है पास

बहुजन समाज पार्टी की सुप्रीमो मायावती का नाम किसी परिचय का मोहताज़ नहीं है। जब भी और जहाँ भी उनका जिक्र होता है तो दलितों की मसीहा, बसपा सुप्रीमो या फिर मायावती के नाम से होता है। 

बहुजन समाज पार्टी की सुप्रीमो मायावती का नाम किसी परिचय का मोहताज़ नहीं है। जब भी और जहाँ भी उनका जिक्र होता है तो दलितों की मसीहा, बसपा सुप्रीमो या फिर मायावती के नाम से होता है।  पर क्या आपको पता है उनका पूरा नाम क्या है? अगर नहीं तो चलिए फिर आज हम आपको बताते है। मायावती का पूरा नाम मायावती प्रभू दास है। 

बहुजन समाज पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष हैं और उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री रह चुकी हैं। मायावती का जन्म 15 जनवरी 1956 को नई दिल्ली में एक सरकारी कर्मचारी प्रभु दयाल के यहां हुआ था। मायावती का पूरा नाम मायावती प्रभू दास है। इनके पिता का नाम प्रभू दयाल और माता का नाम रामरती था।

लोग सम्मान में इन्हें बहन जी कह कर पुकारते हैं

इनके पिता प्रभूदयाल भारतीय डाक-तार विभाग के अनुभाग प्रधान के पद पर कार्यरत थे। बाद में उनके पिता भारतीय डाक-तार विभाग के अनुभाग प्रधान के पद से सेवा निवृत्त हुए। मायावती के 6 भाई एवं 2 बहनें हैं। मायावती के पूर्वज ग्राम बादलपुर जिला गौतमबुद्ध नगर, उत्तर प्रदेश के रहने वाले थे। लोग सम्मान में इन्हें बहन जी कह कर पुकारते हैं। उनके परिवार का सम्बन्ध दलित उपजाति जाटव (चमार ) से है।

देश की आर्थिक स्थिति को ‘बूस्ट अप’ करने के लिए मोदी सरकार के 12 बड़े ऐलान

चुनाव कोई भी हो बात अगर उत्तर प्रदेश के वोटरों की आती है तो बसपा सुप्रीमो मायावती के प्रभाव को नजरअंदाज नहीं किया जा सकता है।अब लोकसभा चुनाव 2014 ही ले लीजिये, जैसे जैसे उत्तर प्रदेश सरकार की परफॉरमेंस गिरती जा रही है, वैसे-वैसे मायावती का सिक्का यूपी में जमता जा रहा है। खैर इस बार मैदान में भारतीय जनता पार्टी भी मजबूती से उतरी है।

इस लेख में मायावती के बारे में ऐसी, बातें पता चलेंगी

खैर बात अब मायावती की चली है, तो चलिये उनके राजनीतिक सफर पर एक नजर डालते हैं। आप सोचेंगे कि मायावती के राजनीतिक जीवन के बारे में क्या पढ़ना, तो हम आपको बता दें कि इस लेख में मायावती के बारे में ऐसी, बातें पता चलेंगी, जो शायद आप नहीं जानते होंगे।

निजी जीवन : मायावती का जन्म 15 जनवरी, 1956 में दिल्ली में एक दलित परिवार के घर पर हुआ। पिता प्रभु दयाल जी भारतीय डाक-तार विभाग के वरिष्ठ लिपिक के पद से सेवा निवृत्त हुए। उनकी माता रामरती अनपढ़ महिला थीं परन्तु उन्होंने अपने सभी बच्चों की शिक्षा में रुचि ली और सबको योग्य भी बनाया।

मायावती के 6 भाई और 2 बहनें हैं। इनका पैतृक गाँव बादलपुर है जो उत्तर प्रदेश के गौतमबुद्ध नगर जिले में स्थित है। बीए करने के बाद उन्होंने दिल्ली के कालिन्दी कॉलेज से एलएलबी किया। इसके अतिरिक्त उन्होंने बीएड भी किया। अपने करियर की शुरुआत दिल्ली के एक स्कूल में एक शिक्षिका के रूप में की। उसी दौरान उन्होंने सिविल सर्विसेस की तैयारी भी की। वे अविवाहित हैं और अपने समर्थकों में ‘बहनजी’ के नाम से जानी जाती हैं।

  • हमें फेसबुक पेज को अभी लाइक और फॉलों करें @theupkhabardigitalmedia 

  • ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @theupkhabar पर क्लिक करें।

  • हमारे यूट्यूब चैनल को अभी सब्सक्राइब करें https://www.youtube.com/c/THEUPKHABAR

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button