डीएम ने कई धान खरीद केंद्रों का किया निरीक्षण, लापरवाह अफसरों पर गिरी गाज

कन्नौज में डीएम ने धान खरीद कई केंद्रों का निरीक्षण किया। केंद्रों पर खामियों को देखते हुए डीएम ने तिर्वा पीएसएफ केंद्र प्रभारी ब्रजेश चंद्र व खड़िनी के किसान सेवा सहकारी समिति में पीसीएफ खरीद केंद्र के प्रभारियों को निलंबित करने के निर्देश दिए।

कन्नौज में डीएम ने धान खरीद कई केंद्रों का निरीक्षण किया। केंद्रों पर खामियों को देखते हुए डीएम ने तिर्वा पीएसएफ केंद्र प्रभारी ब्रजेश चंद्र व खड़िनी के किसान सेवा सहकारी समिति में पीसीएफ खरीद केंद्र के प्रभारियों को निलंबित करने के निर्देश दिए।

बताते चले कि, डीएम राकेश कुमार मिश्र ने सीडीओ आरएन सिंह के साथ जिले के कई धान खरीद केंद्रों का औचक निरीक्षण किया। तिर्वा मंडी में एक सप्ताह पहले खुले सहकारी समिति के केंद्र पर सिर्फ 30 क्विंटल धान की खरीद देख डीएम का पारा चढ़ गया। उन्होंने केंद्र प्रभारी बृजेश चंद्र को फटकार लगाई और एसडीएम जयकरन को केंद्र प्रभारी को निलंबित करने के निर्देश दिए।

इसके साथ ही मंडी में टिन शेड के अंदर व्यापारियों का अनाज रखा देख डीएम ने व्यापारियों व मंडी कर्मचारियों को फटकार लगा दी। व्यापारियों के टिन शेड खाली न करने पर कार्रवाई के निर्देश दिए। कहा कि खरीद के दौरान किसानों को परेशान न किया जाए। इस मौके पर डिप्टी आरएमओ समरेंद्र प्रताप सिंह समेत कई अफसर व कर्मी मौजूद रहे।

डीएम व सीडीओ ने डिप्टी एआरएमओ के साथ भारतीय खाद्य निगम के खरीद केंद्र पर किसानों की मौजूदगी न देख नाराजगी जताई। गांवों में मुनादी कराकर किसानों को जागरूक करने के निर्देश दिए। विपणन शाखा के केंद्र पर खरीद चल रही थी। शासन की मंशा के अनुरूप खरीद न होने पर उन्होंने केंद्र प्रभारी गजेंद्र शर्मा को खरीद में तेजी लाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि केंद्र पर आने वाले काश्तकारों को ज्यादा से ज्यादा सहूलियत दें। इससे कि वह दूसरे किसानों को भी केंद्र पर आने के लिए प्रेरित करें।

किसान सेवा सहकारी समिति पर संचालित पीसीएफ खरीद केंद्र पर 35 दिनों में महज 19 किसानों से खरीद देख डीएम ने नाराजगी व्यक्त की। डीएम ने सभी केंद्र प्रभारियों को प्रतिदिन की खरीद, शिकायतों व रिजेक्ट धान का विवरण दर्ज करने के निर्देश दिए। हर रोज कम से कम 350 क्विंटल खरीद करने के लिए कहा।

रिपोर्ट- पंकज श्रीवास्तव, कन्नौज

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button