जनसंपर्क अधिकारी के पिता की तेरहवीं में शामिल होने पहुंचे उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा

जौनपुर उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री डॉक्टर दिनेश कुमार शर्मा अपने जनसंपर्क अधिकारी के पिता की तेरहवीं में शामिल होने उनके आवास जौनपुर पहुंचे उनके पिता को श्रद्धा सुमन अर्पित करने के उपरांत उपमुख्यमंत्री ने पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि ऑफलाइन में अभी पठन-पाठन  कैसे हो ऑनलाइन में लगभग  कितने प्रतिशत छात्रों की उपस्थिति हो  रही है।

जौनपुर उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री डॉक्टर दिनेश कुमार शर्मा (Deputy CM Dinesh Sharma )अपने जनसंपर्क अधिकारी के पिता की तेरहवीं में शामिल होने उनके आवास जौनपुर पहुंचे उनके पिता को श्रद्धा सुमन अर्पित करने के उपरांत उपमुख्यमंत्री ने पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि ऑफलाइन में अभी पठन-पाठन  कैसे हो ऑनलाइन में लगभग  कितने प्रतिशत छात्रों की उपस्थिति हो  रही है।

कोविड-19 लाइन का पालन किया जा रहा है कि नहीं किया जा रहा है परीक्षा केंद्रों का वितरण का प्रारंभ किस प्रकार से करें कि तमाम विषय है जिस पर आज बैठक किया गया है। उनको समुचित निर्देश दिया गया है पठन-पाठन ऑफलाइन और ऑनलाइन दोनों चले साथ में परीक्षा की तैयारी भी शुरू कर दिया गया है।

जौनपुर में ऑफलाइन ऑनलाइन क्लास  चल रहे हैं

मार्च-अप्रैल की परीक्षाएं हो परीक्षा शुरू हो और  सकुशल संपन्न हो इसके लिए आधिकारिक बैठक की गई है। यह खुशी की बात है कि जौनपुर में ऑफलाइन ऑनलाइन क्लास  चल रहे हैं  कोविड-19 पालन भी किया जा रहा है पूर्वांचल विश्वविद्यालय में हुए घोटाले के मामले में कहा कि अभी इसकी जानकारी नहीं है आने पर जांच की जाएगी।

ये भी पढ़ें – सुल्तानपुर: घर पर ट्यूशन पढ़ाने के बहाने छात्र को बुलाकर ‘घिनौना काम’ का प्रयास

नकल विहीन परीक्षा के संबंध में ने कहा कि जिस प्रकार पिछले वर्ष नकल विहीन परीक्षा हुई थी इस बार उससे भी ज्यादा कड़ाई के साथ परीक्षाएं कराई जाएंगी। जिन विद्यालयों में जिला विद्यालय निरीक्षक नहीं है उनकी लिस्ट भेज दी गई है मुख्यमंत्री से वार्ता को जल्दी भी वहां आ जाएंगे।

ये भी पढ़ें – गाजियाबाद: घर में सो रही थी साली हैवान जीजा ने कर डाला ये ‘घिनौना काम’

जनपद में बन रहे निर्माणाधीन मेडिकल कॉलेज में देरी होने पर कहा कि  मालूम कर लिया जाएगा क्या समस्या है उसको  जल्द पूरा कराया जाएगा। किसानों के आंदोलन के संबंध में कहा कि भारत सरकार के दरवाजे हमेशा किसानो  से वार्ता के लिए खुले हैं प्रधानमंत्री का सपना है कि किसानों की आमदनी दुगनी हो इसके लिए उन्होंने सम्मान राशि का काफी प्रयोग किया है समर्थन मूल्य बढ़ाने का भी काम किया है।

ये भी पढ़ें – आजमगढ़: सिर्फ लड़की देख तय कर ली शादी और जब घर पहुंची बारात तो उड़ गए होश

साथ में इनका भी चिंता किया है कि उनके जो गेहूं और धान की पैसे और गन्ने का भुगतान का समय से हो वह भी उपलब्ध है तमाम चीजें सरकार कर रही है इनको विशेष सुविधाएं  उपलब्ध करा रही है। सब मिलाकर प्रधानमंत्री की यह मंशा है कि उनकी आय दुगनी हो किसानों की जो भी समस्याएं हो वह सरकार सुनेगी।देश के अराजकता बहुत दिनों तक टिकी नहीं रहती है लोकतंत्र में  जनता अपने वोटों से  इसका देती है जो आने वाला समय बताएगा

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button