लखनऊ में तेजी से बढ़ रहे कोरोना मरीज, CMO नरेंद्र अग्रवाल के दावे हुए फेल…

corona patient Lucknow CMO Narendra Agarwal failed लखनऊ. उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में तेजी से कोरोना मरीजों की संख्या बढ़ रही है। लोगों की शिकायत है कि सीएमओ ऑफिस से किसी भी प्रकार की मदद नहीं मिल रही है।

सीएमओ नरेंद्र अग्रवाल के लखनऊ शहर को लेकर दावे फेल हुए। पत्रकारों को भी साहब का फोन न उठने की शिाकायत है।

पत्रकारो की भी रहती है शिकायत, नही उठता है साहब का फ़ोन

उत्तर प्रदेश की राजधानी में लगातार तेज़ी से बढ़ रहे कोरोना संक्रमित।

लगातार आती है जनता से शिकायत, अक्सर नही मिलती या देर से मिलती है सीएमओ / सीएमओ आफिस से मदद

सीएमओ नरेंद्र अग्रवाल के लखनऊ शहर को लेकर दावे हुए फेल…

पत्रकारो की भी रहती है शिकायत, नही उठता है साहब का फ़ोन…

हाल ही में अपर मुख्य सचिव अवनीश अवस्थी द्वारा किया गया सीएमओ कार्यालय के निरीक्षण, हुए नाखुश

लखनऊ: लोक-भवन के सामने आत्मदाह करने के मामले में अमेठी की एसपी ने की कार्रवाई

सीएमओ आफिस के अंदर ही नही होता है सरकारी गाइडलाइनो के नियमो का पालन,होता है कोरोना प्रोटोकॉल का उल्लंघन

अभी हाल ही में कोरोना संक्रमण के चलते सीएमओ आफिस भी हुआ था दो दिनों के लिए बंद

लगातार हो रही लापरवाही के बावजूद नही हुई सीएमओ लखनऊ पर कोई कार्यवाही

कुछ दिनों पहले हॉस्पिटलों को लेकर कोरोना जांच पर भी सीएमओ द्वारा नही की गई थी कोई कार्यवाही.

कानपुर कांड में जेसीबी चालक गिरफ्तार सुने वीडियो…

सीएमओ और जिलाधिकारी द्वारा दिये जा रहे कोरोना संक्रमितों के आंकड़े में भी अक्सर रहता है मतभेद जिसका मुख्यमंत्री द्वारा भी लिया गया था संज्ञान.

लापरवाही के चलते उत्तर प्रदेश के काफी ज़िलों में हुए है सीएमओ के ट्रांसफर.

लखनऊ सीएमओ डॉ नरेंद्र अग्रवाल से नही संभल रहा शहर में बढ़ता कोरोना संक्रमण

ऊंचे रसूक और पहुच के चलते लगातार हो रही लापरवाही के बावजूद नही हो रही सीएमओ लखनऊ पर कोई कार्यवाही

शासन द्वारा कार्यवाही न किये जाने से उठते है कि सवाल… क्या जनता की सुरक्षा से ऊपर है सीएमओ का सरकारी संपर्क???

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button