बिहार चुनाव : चुनाव के बाद मुख्यमंत्री नितीश कुमार जाएंगे जेल ? जाने पूरा मामला 

रैली के दौरान आमजन को संबोधित करते हुए लोजपा अध्यक्ष चिराग पासवान ने दो बड़े वादे कर दिए हैं।

बिहार चुनाव। राज्य में चुनावी रैलियों की भरमार है। मंचो से वोटरों को प्रभावित करने के लिए नेताओं द्वारा एक दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप लगाए जा रहे हैं। हालांकि प्रथम चरण के लिए चुनाव प्रचार सोमवार से थम गया। लेकिन आखिरी दिन नेता एक दूसरे पर जमकर बरसे। इसी क्रम में लोजपा अध्यक्ष चिराग पासवान द्वारा दिए गए एक बयान पर राजनीति तेज हो गई है।

 

चिराग ने किए बड़े वादे

दरअसल बक्सर में रैली के दौरान आमजन को संबोधित करते हुए लोजपा अध्यक्ष चिराग पासवान ने दो बड़े वादे कर दिए हैं। उन्होंने पहले वादे में कहा कि यदि उनकी पार्टी सरकार आती है तो सीतामढ़ी में माता सीता का भव्य मंदिर बनेगा। उनके अनुसार, सीता माता नारी शसक्तीकरण और नारी स्वाभिमान का प्रतीक हैं। रिपोर्ट्स की माने तो चिराग का कहना है कि सीता मंदिर, अयोध्या में बन रहे राम मंदिर से भी बड़ा होगा।

सबको भेजा जाएगा जेल

उनके दूसरे वादे पर घमासान मचा हुआ है। उन्होंने अपने दूसरे वादे में कहा कि, ‘जो मंत्री भ्रष्टाचारी हो, जो मुख्यमंत्री युवा विरोधी हो, जो युवाओं को पलायन पर मजबूर कर दे, ऐसे मुख्यमंत्री को बदलना चाहिए कि नहीं। मैंने इसका जिक्र घोषणापत्र में किया है। जितना भ्रष्टाचार हुआ है, जितना घोटाला हुआ है। भले ही किसी अधिकारी ने किया हो या खुद मुख्यमंत्री ने किया हो, जांच कराई जाएगी और सबको जेल भेजा जाएगा।

जुबानी जंग पहुंची जेल तक

चुनावी घमासान के बीच जारी जुबानी जंग मंच से जेल तक पहुंच गई है। अब देखना यही होगा कि जनता गद्दी तक किसको पहुंचाती है। हालांकि पहले चरण का चुनाव थम गया है। अब जनता के निर्णय करने का समय है। लेकिन क्या मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को भी कभी जेल जाना पड़ सकता है। यह तो आने वाला समय ही बताएगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button