चीन ने कोरोना को लेकर भारत पर लगाया ये बड़ा आरोप, बोला- पूरी दुनिया में…

भारत के साथ बढ़ते सीमा विवाद के बीच में चीन ने नया पैंतरा आजमाना शुरू कर दिया है. चीन अपनी फर्जी चालों से भारत को बदनाम करने की कोशिश में लग गया है.

भारत के साथ बढ़ते सीमा विवाद के बीच में चीन ने नया पैंतरा आजमाना शुरू कर दिया है. चीन अपनी फर्जी चालों से भारत को बदनाम करने की कोशिश में लग गया है. चीन ने दुनिया के सामने एक बेहद ही घटिया और शर्मनाक झूठ फैलाने की कोशिश की है. चीन के वैज्ञानिकों(Chinese scientists) का कहना है कि, वुहान में कोरोना के फैलने से पहले ही ये इटली, समेत दुनिया के कई हिस्सों में फैल चुकी थी और इसकी शुरुआत भारत से हुई थी.

2019 में कोरोना वायरस का पहला मामला सामने आया

चीनी वैज्ञानिकों(Chinese scientists) ने दावा किया है पानी की कमी के कारण जंगली जानवर जैसे बंदर पानी के लिए अक्‍सर बुरी तरह से लड़ पड़ते हैं और इससे निश्चित रूप से इंसान और जंगली जानवरों के बीच संपर्क का खतरा बढ़ गया होगा. इसी के बाद वैज्ञानिक इस नतीजे पर पहुंचे कि पशुओं से इंसान में कोरोना वायरस के फैलने का संबंध असामान्‍य गर्मी की वजह से है. इसके बाद चीनी वैज्ञानिकों ने यह भी दावा किया कि भारत के खराब स्‍वास्‍थ्‍य सिस्टम और युवा आबादी की वजह से यह बीमारी कई महीनों तक यूं ही बिना पहचान में आए फैलती रही. बता दें कि चीन के वुहान में दिसंबर 2019 में कोरोना वायरस का पहला मामला सामने आया था.

चीनी शोध बहुत दोषपूर्ण है

हालांकि चीन के इस दावे की हवा कुछ ही देर में निकल गई. चीन के दावा करने के कुछ समय बाद ही ब्रिटेन के ग्‍लासगो यूनिवर्सिटी के एक विशेषज्ञ डेविड राबर्ट्सन ने डेली मेल के कहा कि चीनी शोध बहुत दोषपूर्ण है और यह कोरोना वायरस के बारे में हमारी समझ में जरा भी वृद्धि नहीं करता है. ऐसा पहली बार नहीं है जब चीन ने वुहान की बजाय कोरोना वायरस के लिए अन्‍य देशों पर उंगली उठाई है. चीन ने बिना सबूतों के ही इटली और अमेरिका पर कोरोना वायरस को फैलाने का आरोप लगाया है. चीनी वैज्ञानिकों(Chinese scientists) ने भारत पर यह आरोप ऐसे समय पर लगाया है जब सीमा विवाद को लेकर हालात बिगड़े हुए हैं.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button