VIDEO: BJP विधायक के अश्लील बोल, कहा- सोनिया गांधी ने शारीरिक सुख के लिए किया ये काम…

पश्चिम बंगाल (West Bengal) की मुख्यमंत्री और टीएमसी (TMC) प्रमुख ममता बनर्जी पर विवादित बयान देने वाले भारतीय जनता पार्टी (Bharatiya Janata Party) के विधायक सुरेंद्र सिंह (MLA Surendra Singh) एक बार फिर सुर्खियों में आ गए हैं।

पश्चिम बंगाल (West Bengal) की मुख्यमंत्री और टीएमसी (TMC) प्रमुख ममता बनर्जी पर विवादित बयान देने वाले भारतीय जनता पार्टी (Bharatiya Janata Party) के विधायक सुरेंद्र सिंह (MLA Surendra Singh) एक बार फिर सुर्खियों में आ गए हैं। बलिया (Ballia) जिले के बैरिया क्षेत्र से बीजेपी विधायक सुरेंद्र सिंह ने कांग्रेस (Congress) अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) और बहुजन समाज पार्टी (Bahujan samaj party) की सुप्रीमो मायावती (Mayawati) को लेकर बड़ा बयान दिया है।

केवल शारीरिक सुख के लिए भारत में आईं सोनिया गांधी

सुरेंद्र सिंह (MLA Surendra Singh) ने कहा कि जो महिला केवल अपनी शारीरिक सुख के लिए और राजनीति में बड़ा पद पाने की इच्छा से देश छोड़कर भारत में आई, ऐसी महिला को भारतीय नारी की उपाधि देना, ऐसा संभव नहीं है, जिसमें परिवार भक्ति के सिवा राष्ट्र भक्ति दूर-दूर तक कहीं दिखाई न देती हो।

ये भी पढ़े-बुलंदशहर: जूते पर जाति सूचक शब्द लिखा होने से जमकर हुआ हंगामा

भारत रत्न की उपाधि देने की मांग को लेकर बोले बीजेपी विधायक

कांग्रेस की अध्यक्ष सोनिया गांधी और बसपा सुप्रीमो मायावती को भारत रत्न की उपाधि देने की मांग को लेकर पूछे गए सवाल पर बीजेपी के विधायक सुरेंद्र सिंह (MLA Surendra Singh) ने कहा कि कांग्रेसी कल्चर में चारण संस्कृति इतनी जबरदस्त होती है कि नहीं बोलेगा तो उसको कोई छोटा पद भी मिलने वाला नहीं हैं। कांग्रेस अब टूटी-फूटी नाव हो चुकी है और टूटी नाव पर सवारी करने वाली भी मूर्ख ही कहा जाता है।

उन्होंने कहा कि अगर सोनिया गांधी और मायावती को भारत रत्न मिलेगा तो भारत में ऐसा कोई नहीं बचेगा जिसे भारत रत्न न मिले। साथ ही उन्होंने कहा कि इन सभी से ज्यादा स्तरहीन देश में कोई नेता नहीं है। उन्होंने सोनिया गांधी पर निशाना साधते हुए कहा कि वो तो इटली से आकर वैभव की दुनिया में खुद को स्थापित करने की चाह थी, लेकिन भारत की जनता को धन्यवाद देना चाहिए कि कम से कम ऐसे लोगों को कभी भटकने नहीं दिया।

मायावती का मकसद केवल पैसा इकट्ठा करना

वहीं, मायावती पर हमलावर हुए विधायक सुरेंद्र सिंह (MLA Surendra Singh) ने कहा कि ‘मायावती यानी माया-आवती, जिसके जीवन का उद्देश्य ही केवल पैसा कमाना है और धन इकट्ठा करना है तो रत्न वो इकट्ठा कर ही चुकी है।’

ये भी पढ़े- उन्नाव: देर रात पीडब्लूडी गेस्ट हाउस से निकाले गए आप विधायक

पूर्व मुख्यमंत्री ने की भारत रत्न देने की मांग

दरअसल, उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी और बसपा प्रमुख मायावती को भारत रत्न दिये जाने की मांग की है। उन्होंने सोशल मीडिया के जरिये भारत सरकार से दोनों महिला नेता को पुरुस्कार दिये जाने की मांग की है।

हरीश रावत की कोशिशों पर बसपा ने उठाएं सवाल

हालांकि, बहुजन समाज पार्टी ने हरीश रावत की कोशिशों पर सवाल उठाएं हैं। पार्टी ने आरोप लगाया है कि ये जनता को बेवकूफ बनाने की रणनीति है।

ये भी पढ़े- बीजेपी विधायक के दुलारे ग्राम प्रधान की मुख्यमंत्री को चुनौती!

हरीश रावत के मुताबिक, सोनिया गांधी और मायावती ने महिला सशक्तिकरण में बड़ा योगदान दिया है। उन्होंने कहा कि ‘सोनिया और मायावती दोनों बड़ी राजनेता हैं। सोनिया गांधी की राजनीति से एक बार कोई असहमत हो सकता है, लेकिन महिला सशक्तिकरण में उनके किए कामों को नकार नहीं सकता।’ उनके अनुसार, आज उन्हें नारीवाद की मूर्ति के रूप में देखा जाता है।

हरीश रावत ने की मायावती की जमकर तारीफ

साथ ही हरीश रावत ने बसपा प्रमुख मायावती की जमकर तारीफ करते हुए कहा कि ‘इसी तरह मायावती ने दबे और पिछड़े वर्ग के हक़ में आवाज उठाई है। इसके अलावा उन लोगों में विश्वास की भावना जगाई है’

कांग्रेस नेता ने अपील की है कि इस साल भारत सरकार को दोनों महिलाओं का भारत रत्न देकर सम्मान करना चाहिए। उनकी इस मांग के बाद सियासती विवाद शुरू हो गया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button