बागपत- पुलिस के हाथ लगी बड़ी कामयाबी,अंगूठा निशान बनाकर फ्रॉड करने वाले गिरोह का हुआ भंडाफोड़

बागपत जनपद में फिंगरप्रिंट क्लोनिंग कर फ्रोड करने वाले गिरोह के पांच सदस्यों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है जिनके पास से अंगूठा निशानी तैयार करने की मशीन मोबाइल फोन वाटर पेपर सहित कई आपत्तिजनक चीजें बरामद की गई हैं यह लोग अंगूठा निशानी बनाकर लोगों के खाते से पैसे निकाल रहे थे।

बागपत जनपद में फिंगरप्रिंट क्लोनिंग कर फ्रोड करने वाले गिरोह के पांच सदस्यों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है जिनके पास से अंगूठा निशानी तैयार करने की मशीन मोबाइल फोन वाटर पेपर सहित कई आपत्तिजनक चीजें बरामद की गई हैं यह लोग अंगूठा निशानी बनाकर लोगों के खाते से पैसे निकाल रहे थे।

दर्शल बागपत कोतवाली में शिवकुमार पुत्र विजेंदर ने लिखित सूचना दी थी की नितिन व राहुल ने नौकरी लगवाने के नाम पर उसके आधार कार्ड की छाया प्रति व अंगूठा निशान लिए थे, जिसके कुछ दिन बाद से उसके खाते से थोड़े थोड़े कर एक लाख 40 हजार रुपये निकाल लिए गए और उसे पता नहीं चला इसकी सूचना उसने बागपत कोतवाली पुलिस को तहरीर दी पुलिस ने मामला दर्ज कर एसपी बागपत अभिषेक सिंह को अवगत कराया। एसपी बागपत अभिषेक सिंह के निर्देश के बाद बागपत कोतवाली पुलिस ने मामले की जांच पड़ताल शुरू कर दी और धंधे में लगे गिरोह के पांच लोगों को गिरफ्तार कर लिया इस गिरोह का सरगना मुरादाबाद जिले के महमूदपुर गांव का रहने वाला है जिसका नाम मोहम्मद उमर पुत्र रईस है।

यह भी पढ़े: देहरादून विमानपत्तन पर वार्षिक ऐंटी हाईजैकिंग मॉक अभ्यास का हुए आयोजन

पूछताछ के दौरान नितिन व विकास ने बताया कि वाजिद के कहने पर वह लोगों से आधार कार्ड वह कोरे कागज पर अंगूठे का निशान लिया करते थे जिसके बदले में उन्हें 3 हजार रुपये मिलते थे कुछ दिन पहले वाजिद ने उनको मशीन चलानी भी सिखाई थी।

1 साल से कर रहा था उमर काम

पुलिस द्वारा उमर से पूछताछ की गई तो उसने बताया कि लगभग 1 साल से वह इस धंधे में लगा हुआ है और बहुत से लोगों के खातों से पैसे निकाल चुका है।गिरोह के पकड़े गए सदस्यों के नाम नितिन ,विकास,वाजिद जो बागपत जिले के ही रहने वाले है। जबकि पराग गर्ग संभल का व गिरोह का सरगना उमर मुरादाबाद का रहने वाला है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button