IND Vs AUS: जीत के बाद BCCI ने किया बड़ा ऐलान, भारतीय टीम को मिलेगा इतने करोड़ का बोनस…

भारतीय क्रिकेट बोर्ड (BCCI) ने भारतीय क्रिकेट टीम को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ चार मैचों की सीरीज में 2-1 से जीत के साथ बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी बरकरार रखने के लिए पांच करोड़ रुपये बोनस देने की घोषणा की है.

भारतीय क्रिकेट बोर्ड (BCCI) ने भारतीय क्रिकेट टीम को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ चार मैचों की सीरीज में 2-1 से जीत के साथ बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी बरकरार रखने के लिए पांच करोड़ रुपये बोनस देने की घोषणा की है. अजिंक्य रहाणे की कप्तानी में भारतीय टीम ने 70 साल पुराना रिकॉर्ड भी तोड़ दिया है.

इंडिया (India) और ऑस्ट्रेलिया के बीच ब्रिस्बेन के गाबा इंटरनेशनल स्टेडियम में खेले गए चौथे और निर्णायक मैच में भारतीय बल्लेबाजों ने अपने शानदार प्रदर्शन से गाबा के मैदान पर तिरंगा लहरा दिया. शुभमन गिल और ऋषभ पंत की शानदार पारी की बदौलत इंडिया ने ऑस्ट्रेलिया को तीन विकेट से हराकर टेस्ट सीरीज को 2-1 से नाम कर लिया. इसी जीत के साथ भारत (India) ने बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी में जीत की हैट्रिक लगा दी है. इससे पहले दो बार लगातार इंडिया (India) ने इस सीरीज पर अपना कब्जा जमाया है. टीम इंडिया की जीत को लेकर सोशल मीडिया पर जमकर मीम्स भी शेयर किए जा रहे हैं.

इस सीरीज के हीरो रहे सात ऐसे खिलाड़ी हैं जिन्होंने खेल की तस्वीर बदल कर भारत (India) के पक्ष में लाकर खड़ा कर दिया. बैटिंग और बॉलिंग के जरिए टीम को जीत की इबारत लिखने में अहम भूमिका निभाई. इनमें ओपनर बल्लेबाज शुभमन गिल, ऋषभ पंत, शार्दुल ठाकुर, वाशिंगटन सुंदर, चेतेश्वर पुजारा, मोहम्मद सिराज, टी नटराजन का नाम शामिल है.

शुभमन गिल ने अपनी शानदार 91 रनों की पारी खेलते हुए लोगों का दिल जीत लिया. शुभमन गिल ने ओपनर बैट्समैन के तौर आकर मुश्किल समय में अच्छी शुरूआत करते हुए टीम को जीत की तरफ बढ़ाया. शुभमन ने पुजारा के साथ मिलकर 114 रनों की साझेदारी की जिसमें उन्होंने 8 चौके और 2 छक्के लगाए.

ऋषभ पंत ने पांचवें नंबर पर बल्लेबाजी करते हुए टीम इंडिया (India) को ना सिर्फ जीत दिलाई बल्कि पूर्व कप्तान महेन्द्र सिंह धोनी का एक रिकॉर्ड तोड़कर उसे अपने नाम कर लिया. इस टेस्ट मैच में उन्होंने एक हजार रन पूरे करने के साथ सबसे युवा बल्लेबाज बन गए. ऋषभ पंत ने 89 रनों की दमदार पारी खेली.

ब्रिस्बेन टेस्ट में शार्दुल ठाकुर असली हीरो बनकर उभरे हैं. इस मैच में शार्दुल ठाकुर ने कुल 7 विकेट झटके और बल्ले के साथ 67 रन भी बनाए. इसके अलावा शार्दुल ने दो बेहतरीन कैच भी पकड़े .

यह भी पढ़ें- IND Vs AUS: इंडिया टीम के 7 हीरो, जिन्होंने ब्रिस्बेन में रचा इतिहास, बनाए ये कमाल के रिकॉर्ड…

वाशिंगटन सुंदर ने अपने डेब्यू मैच में ही बल्ले से कमाल करते हुए 62 रनों की बेजोड़ पारी खेली. इसके साथ ही उन्होंने 4 विकेट भी झटके. वॉशिंगटन सुंदर और शार्दुल ठाकुर ने मिलकर सातवें विकेट के लिए 123 रनों की पार्टनरशिप की.

मोहम्मद सिराज ने अपनी गेंदबाजी से कंगारुओं के होश उड़ा दिए. टेस्ट की दूसरी पारी में पहली बार पांच विकेट लिए. इसके साथ ही सिराज ने ऑस्ट्रेलिया को दूसरी पारी में ज्यादा स्कोर नहीं बनाने दिया.

चेतेश्वर पुजारा ने सिडनी और ब्रिस्बेन दोनों टेस्ट मैच में कमाल की पारी खेली. पुजारा ने एक छोर संभाले रखा और विकेट पर मजबूती के साथ पकड़ बनाए रखा. पुजारा ने 56 रनों की शानदार पारी खेलते हुए टीम को जीत दिलाने में अहम भूमिका निभाई.

बाएं हाथ के तेज गेंदबाज टी नटराजन ने ब्रिस्बेन में टेस्ट डेब्यू करते हुए पहली पारी में 3 विकेट हासिल किए. टी नटराजन की जबरदस्त गेंदबाजी ने सबका दिल जीत लिया. नटराजन के पास सटीक यॉर्कर और दमदार बाउंसर्स हैं जिसकी दम पर उन्होंने ऑस्ट्रेलिया की नाक में दम कर दिया.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button